शामली, जेएनएन। जलालाबाद दकौड़ी संपर्क मार्ग के दोनों किनारे पर गंदगी के ढेर डाले जा रहे हैं। दोनों किनारों पर गंदगी के ढेर लग जाने से ग्रामीणों को आवागमन में परेशानी उठानी पड़ रही है।

कस्बे के हाईवे से हनुमान मंदिर निकट से दकौड़ी संपर्क मार्ग गांव दकौड़ी तक जाता है। मार्ग पर आवागमन कस्बे व ग्रामीणों का दिन रात लगा रहता है। हनुमान मंदिर निकट से आगे मार्ग के दोनों किनारों पर पुल तक गंदगी गोबर के ढेर डाले जा रहे हैं। गंदगी के ढेर डाले जाने से दोनों किनारों की ओर से मार्ग की चौड़ाई कम हो गई है।

गंदगी ढेर से बदबू फैलने से ग्रामीणों को नाक पर कपड़ा या मास्क लगाकर वहां से गुजरना पड़ रहा है। यह क्षेत्र निकाय के अंतर्गत नहीं आता है। इसकी सीमा ग्राम पंचायत जलालाबाद देहात के अंतर्गत आती है। परंतु यहां पर ग्राम सचिव के द्वारा कोई कार्रवाई गंदगी के ढेरों को हटाने के लिए नहीं की गई है। ग्रामीण रोहताश, ओम प्रकाश, सुरेश, यामीन, आनंदपाल, अशोक कुमार ने मांग की है कि मार्ग के दोनों किनारों से गंदगी के ढेर हटाकर निजात दिलाई जाए। जिले के स्कूल-कालेज और भवनों को खुला रखें: डीएम

शामली, जेएनएन। डीएम जसजीत कौर ने कोविड वैक्सीनेशन एवं मतदेय स्थलों में सेक्टर मजिस्ट्रेटों के भ्रमण के मद्देनजर स्कूल, कालेज व सरकारी भवनों को निरंतर खोले रखने के निर्देश दिए हैं। डीएम ने डीआइओएस, बीएसए व डीपीआरओ को निर्देशित किया है कि विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 के मतदान के चलते आठ फरवरी से 12 फरवरी की अवधि तक के मतदान के लिए जिन भवनों में मतदेय स्थल है। उन्हें अधिग्रहित किया गया था।

जनपद में शीतकालीन अवकाश होने से स्कूल-कालेज बंद है। इस कारण सेक्टर मजिस्ट्रेट भ्रमण के दौरान मतदेय स्थल पर मूलभूत सुविधाओं की जांच करने पर पहुंचते तो बंद मिलते हैं। डीएम ने कहा कि जिले में कोविड वैक्सीनेशन संतोषजनक नहीं है। कोविड वैक्सीनेशन की लहर को देखते हुए इन्हें खोले जाना जरूरी है। वैक्सीनेशन टीम एवं जिला स्तरीय अधिकारी इस कार्य में लगे हुए हैं तथा स्कूलों पर कोविड वैक्सीनेशन कैंप भी लगाए जा रहे हैं। डीएम ने स्कूल, कालेज व सार्वजिनक भवनों को निरंतर खोलने के निर्देश दिए हैं।

Edited By: Jagran