शामली, जेएनएन : कोरोना संक्रमण के खिलाफ चल रही बचाव की मुहिम को बैंक शाखाओं के बाहर लगी खातेदारों की भीड़ तार-तार कर रही है। सरकार की ओर से भेजी गई सहायता राशि निकालने को लोगों की लंबी-लंबी कतारें बैंकों के बाहर लगी हुई है। अधिकतर बैंकों के सामने सामाजिक दूरी के मायने नहीं रह गए हैं कोरोना के खतरे को देखते हुए पूरे भारत में लॉकडाउन किया गया है। प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री से लेकर जिला प्रशासन के अधिकारी तक लॉकडाउन का पालन कराने में जुटे हैं।

कस्बा गढ़ीपुख्ता के पंजाब नेशनल बैंक में सुबह 10 बजे खुलते है। नगर व देहात के लोगों व महिलाओं की बैंकों के बाहर भीड़ लग जाती है। लोग लाइनों में एक दूसरे से एकदम सटकर खड़े हो गए थे। यह स्थिति रोज सामने आ रही है। वृद्धा पेंशन, दिव्यांग पेंशन, उज्जवला पेंशन स्कीम के तहत अग्रिम भुगतान और प्रधानमंत्री जनधन खातों के लिए भेजी गयी राशि समेत अन्य मदों से निकासी के लिए लोगों की कतारें बैंकों के बाहर नजर आयी। कस्बे के पंजाब नेशनल बैंक के बाहर खुलेआम शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ाई जा रही है। इसकी सूचना कस्बा इंचार्ज अरुण कुमार को मिली। वह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। सभी को शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए कहा गया। इस पर सभी ने एक एक मीटर का फासला बनाकर बैंक से नगदी निकली।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस