शामली, जेएनएन। विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 के मद्देनजर भारत निर्वाचन आयोग की ओर से आनलाइन पद्धति से नामांकन करने की सुविधा दी गई है। इसके लिए एडीएम संतोष कुमार सिंह की अध्यक्षता में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक हुई, जिसमें उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन आयोग की आनलाइन पद्धति से नामांकन करने की जानकारी दी। वेब लिक उपलब्ध है। ऐसे अभ्यर्थी जो आनलाइन पद्धति से नामांकन करना चाहते हैं। वे लिक के माध्यम से नामांकन पत्र की प्रविष्टि कर सकते हैं। उसका प्रिट निकालकर प्रारूप-1 में रिटर्निंग आफिसर सूचना में इंगित स्थान पर नामांकन दाखिल कर सकते हैं। इसी प्रकार शपथ पत्र भी लिक के माध्यम से आनलाइन भर सकते हैं। प्रिट आउट को नोटराइजेशन के पश्चात रिटर्निंग आफिसर के समक्ष दाखिल कर सकते हैं। आनलाइन पद्धति से नामांकन भरने के उपरांत जमानत धनराशि को भी आनलाइन जमा करने का प्रावधान किया गया है। इसके लिए नामांकन पत्र सफलतापूर्वक सबमिट करने के बाद जमानत धनराशि जमा करने के लिए विकल्प लिक दर्शित होगा। जिस पर क्लिक करते हुए आनलाइन पैमेंट किया जा सकता है। अभ्यर्थी इसके अतिरिक्त पूर्व से चली आ रही व्यवस्था के तहत नकद रूप से ट्रेजरी चालान के माध्यम से जमानत धनराशि जमा कर सकते हैं। बैठक में सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी वेदपाल सिंह समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

फजीहत के बाद पुलिस ने उतरवाया होर्डिंग

कैराना : कोतवाली परिसर में लगे होर्डिंग से आदर्श आचार संहिता की धज्जियां उड़ाए जाने का मामला दैनिक जागरण समाचार पत्र में प्रमुखता से प्रकाशित हुआ, तो पुलिस हरकत में आ गई है। पुलिस ने फजीहत के बाद आखिकार होर्डिंग को उतरवा दिया है।

दरअसल, चुनावी आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद भी कैराना कोतवाली परिसर में भाजपा का एक होर्डिंग लगा हुआ था, जिसे लेकर राजनीतिक दलों से जुड़े लोगों में भारी आक्रोश बना हुआ था तथा तमाम तरह की चर्चाएं चल रही थी। यह खबर शनिवार के अंक में दैनिक जागरण समाचार पत्र में प्रमुखता के साथ प्रकाशित की। इसके बाद पुलिस हरकत में आ गई। आनन-फानन में पुलिस द्वारा कोतवाली में लगे होर्डिंग को उतरवा दिया है।

Edited By: Jagran