शामली, जेएनएन। गन्ने की आवक बढ़ने पर शहर में जाम लग गया। जगह-जगह वाहन फंसे रहे और लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़। रात तक भी जाम का झाम बना हुआ था।

पिछले दिनों कई दिन तक बारिश हुई थी। ऐसे में खेतों में पानी भरने से गन्ने की कटाई और छिलाई का काम बंद हो गया था। चीनी मिल में गन्ने की आवक बहुत कम हो गई थी। काफी दिन से गन्ने के जाम से राहत थी। लेकिन शनिवार को दोपहर बाद गन्ने की आवक अचानक बहुत अधिक बढ़ गई। शादियों का सीजन भी शुरू हो चुका है तो सड़कों पर अन्य वाहनों की आवाजाही भी अधिक थी। साथ ही सड़कों पर अतिक्रमण भी काफी अधिक है। शाम को चीनी मिल गेट से लेकन वीवी इंटर कालेज रोड, हनुमान धाम रोड और सुभाष चौक तक गन्ना लदे ट्रैक्टर-ट्रालियों की कतार लग गई और जाम की विकराल समस्या हो गई। व्यवस्था संभालने में पुलिसकर्मियों को भी मशक्कत करनी पड़ी। शहर के जाम का असर मेरठ रोड, कैराना रोड से लेकर रेलपार बाईपास तक देखने को मिला। लगातार गन्ने की आवक हो रही थी और ऐसे में जल्द स्थिति सामान्य होने की संभावना नही लग रही। रात में भी ट्रैक्टर-ट्रालियों की कतार थी, लेकिन अन्य वाहनों की आवाजाही कम हो गई थी। ऐसे में जाम से थोड़ी राहत मिली। चीनी मिल के सहायक महाप्रबंधक (गन्ना) दीपक राणा ने बताया कि गन्ने की आवक बढ़ने के कारण दिक्कत हुई है। बारिश के बाद बहुत कम गन्ने की पेराई हो रही थी। जल्द ही स्थिति सामान्य होने की उम्मीद है। जरूरत पड़ी तो इंडेंट में कमी कर दी जाएगी।

Edited By: Jagran