बाबरी : थाना क्षेत्र के गांव कांजरहेड़ी में सोमवार रात शरारती तत्वों ने मंदिर में मां दुर्गा की मूर्ति को खंडित कर दिया। सुबह के समय पूजा करने पहुंचे श्रद्धालुओं ने मूर्ति खंडित देखी तो उनमें रोष फैल गया। मंदिर पर दर्जनों श्रद्धालु एकत्र हो गए और विरोध जताया। आरोपियों को पकड़ने की मांग की। पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को शांत कराया। गणमान्य लोगों ने मंदिर में नई मूर्ति लगाने व खंडित मूर्ति को विसर्जित करने का निर्णय लिया।

क्षेत्र के गांव कांजरहेड़ी में बुटराड़ा भाजू नहर पर पुराना मंदिर है। पिछले कुछ माह से मंदिर में पुजारी नहीं है। मंगलवार सुबह गांव के कुछ श्रद्धालु मंदिर में पूजा-अर्चना करने पहुंचे तो देखा कि मां दुर्गा की मूर्ति अपने स्थान से नीचे गिरी थी व खंडित हो चुकी थी। यह देखकर श्रद्धालुओं में रोष फैल गया। उन्होंने सूचना गांव में दी। इस पर दर्जनों ग्रामीण मंदिर पर जा पहुंचे और उन्होंने घटना का विरोध जताते हुए आरोपियों को पकड़ने की मांग की। सूचना दिए जाने पर मौके पर पहुंची बाबरी पुलिस ने लोगों को समझाकर शांत कराया और आरोपियों को पकड़ने का आश्वासन दिया।

इसके बाद सर्वसम्मति से ग्रामीणों ने चंदा एकत्र कर मां दुर्गा की नई और बड़ी मूर्ति लगाने का निर्णय लिया। चंदा एकत्र करने के बाद कुछ गणमान्य लोग मूर्ति लेने व टूटी मूर्ति विसर्जित करने के लिए रवाना हो गए थे। इस दौरान बिट्टू, प्रधान पति धीर ¨सह, बदन ¨सह, अमित, सतीश, काला, तेज ¨सह, शिवकुमार आदि ग्रामीण मौजूद थे।

उधर, एसओ संदीप बालियान का कहना कि मामले में कोई तहरीर नहीं आई है। ग्रामीणों ने चंदे से नई मूर्ति लगाने का निर्णय लिया है।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट