जेएनएन, शाहजहांपुर : आसमान में छाए बादल रविवार को बूंदाबांदी के रूप में बरसे। पूरे दिन धूप भी नहीं निकली। इससे मौसम नम बना रहा। 31 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चली हवाओं से मौसम सर्द बना रहा। लोग सर्दी से ठिठुरते नजर आए।

पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के बाद मौसम का मिजाज पल पल बदल रहा है। रविवार को दिन भर बादलों की दस्तक से न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री बढ़कर 18.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा गया। जबकि अधिकतम तापमान 2.3 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि के साथ 17.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। लेकिन शहर में बूंदाबादी व ग्रामीण क्षेत्रों में हुई हल्की बारिश से मौसम नम बना रहा। मौसम विज्ञानियों ने 24 जनवरी को भी मौसम नम रहने की संभावना जताई है।

गेहूं के लिए बारिश संजीवनी, दलहनी, तिलहनी को नुकसान

हल्की बूंदाबादी गेहूं फसल के लिए संजीवनी साबित हो रही है। किल्ले अधिक फूटने से पैदावार भी बढ़ेगी। लेकिन धूप न निकलने से सरसों में माहूं कीट के प्रकोप का खतरा बढ़ गया है। आलू की फसल के लिए पछेती झुलसा का भी खतरा बना हुआ है। वहीं मिट्टंी गीली होने से खेत में ही आलू गलने की भी आशंका है। गीली मिट्टंी होने से आलू खोदाई में भी किसानों को परेाशानी हो सकती है।

30 जनवरी तक शीतलहर के संकेत

मौसम विज्ञान विभाग ने 25 से 30 जनवरी तक हल्की शीतलहर की संभावना जताई है। इस आशय का अलर्ट भी जारी किया गया है। हालांकि इसका प्रभाव जनपद में आंशिक रहेगा। लेकिन इस बीच धूप से राहत मिलेगी।

Edited By: Jagran