जेएनएन, पुवायां, शाहजहांपुर : सोने के सिक्के सस्ते दामों पर दिलाने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का पुलिस ने मंगलवार को पर्दाफाश किया। लखीमपुर निवासी सरगना समेत तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। उनके पास से 11 लाख रुपये भी बरामद हुए। फरार चल रहे तीन अन्य आरोपितों की तलाश में एसओजी व पुवायां पुलिस दबिश दे रही है।

सदर थाना क्षेत्र के बाडूजई द्वितीय मुहल्ला निवासी अहसानुल हक व लखीमपुर खीरी जिले के पसगवां थाना क्षेत्र के बरैंची गांव निवासी तुफैल खां आपस में परिचित हैं। करीब डेढ़ माह पहले तुफैल ने अहसानुल को सोने के दो सिक्के दिखाए। बताया कि उसके कुछ जानने वालों के पास सोने के सिक्के हैं। जो खोदाई में मिले हैं। उन सिक्कों को वह सस्ते दामों में दिला सकता है। तुफैल व उसके साथियों की बातों में आकर अहसानुल ने हां कर दी। अहसानुल हक को 15 नवंबर को सिधौली थाना क्षेत्र में खन्नौत नदी के पुल के पास रुपये लेकर आरोपितों ने बुलाया था। जहां करीब 100 सिक्के दिखाए। आरोपितों ने सोने के दो असली सिक्के अहसानुल को दे दिए ताकि वह उन्हें सराफा दुकान दिखा सके। 22 लाख 50 हजार रुपये तुफैल को देकर अहसानुल सिधौली में सराफा की दुकान पर चला गया। इसी बीच आरोपित रुपये लेकर फरार हो गए। 29 नवंबर को तुफैल समेत छह आरोपितों के खिलाफ ठगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। एसपी ने एसओजी को जांच सौंप दी। सोमवार देर रात एसओजी प्रभारी रोहित कुमार ने पुवायां पुलिस की मदद से खिरिया पाठक गांव की ओर जाने वाले मार्ग पर तुफैल के अलावा पुवायां थाना क्षेत्र के पसियाखेड़ा गांव निवासी अली शेर उर्फ फुद्दन व जफरुद्दीन उर्फ जफर को गिरफ्तार कर लिया। तीनों ने सोने के नकली सिक्के बेचकर ठगी की बात कुबूली। उनके घरों से कुल 11 लाख रुपये बरामद किए। आरोपितों के पास से दो तमंचा व पांच कारतूस भी बरामद हुए। जबकि खीरी के पसगवां थाना क्षेत्र के बरैंचा गांव निवासी एजाज, गुड्डू, व पसगवां थाना क्षेत्र के ही किरयारी गांव निवासी पप्पू फरार हैं। शेष रकम इन्हीं के पास है।

असली दिखाकर देते थे तांबे के सिक्के

आरोपितों ने बताया कि अपने परिचितों के माध्यम से ऐसे लोगों से संपर्क साधते थे, जो सोने के सिक्के 15 से 20 हजार रुपये कम दामों में लेने को राजी हो जाते थे। उन्हें दो सिक्के असली सोने के दिखाते थे। जबकि बाकी सिक्कों में नेपाल व अन्य स्थानों से खरीदे हुए तांबे के चमकदार सिक्के दे देते थे।

भटिडा के ग्रामीण से हुआ था 50 लाख का सौदा

पुलिस के मुताबिक आरोपितों ने पुवायां व सिधौली क्षेत्र में कुछ लोगों को इसी तरह ठगी का शिकार बनाया। कुछ दिन पूर्व उन्होंने पंजाब के भटिडा जिले के एक व्यक्ति को 50 लाख रुपये के सोने के सिक्के देने का सौदा तय किया था, लेकिन उससे पहले ही आरोपित पकड़े गए।

वर्जन

फरार चल रहे तीनों आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। अलीशेर पर पहले से ठगी व आ‌र्म्स एक्ट के पांच मुकदमे हैं। अन्य आरोपितों पर कोई भी मुकदमा दर्ज नहीं है। लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है।

एस आनंद, एसपी

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप