फंदे पर लटककर शिक्षक ने दी जान

जेएनएन, शाहजहांपुर : घर में अकेले रह रहे प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक ने बुधवार दोपहर फंदे पर लटककर जान दे दी। शिक्षक के आत्मघाती कदम उठाने के पीछे का कारण अभी पता नहीं चल सका है। सदर बाजार क्षेत्र के मुहल्ला चमकनी करबला निवासी पवन कुमार शर्मा हरदोई जिले के शाहाबाद स्थित जटपुरा गांव के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक थे। उनकी पत्नी शिल्पी बदायूं के जद्दो देवी महाविद्यालय में प्रोफेसर हैं। वह दो बेटियों के साथ वहीं रहती हैं। पवन मंगलवार शाम बदायूं से घर आए थे। रात करीब नौ बजे के बाद उनका मोबाइल बंद हो गया। सुबह नौ बजे तक फोन आन नहीं हुआ तो पत्नी ने पड़ोस में रहने वाले शिक्षक राजपाल को जानकारी दी। राजपाल ने घर जाकर कई बार दरवाजा खटखटाया, लेकिन कोई जवाब नहीं आया, जिस पर उन्होंने मुहल्ले में ही कुछ दूर रहने वालीं पवन की बहन अर्चना व अलका को जानकारी दी। इस बीच अन्य पड़ोसी भी आ गए। उन लोगों ने दरवाजे के ऊपर लगे कांच को तोड़कर अंदर झांका तो अनहोनी का अंदेशा हुआ। बाद में पुलिस छत के रास्ते से घर के अंदर दाखिल हुई। बैठक में पवन का शव फंदे पर लटका मिला। नौकरी लगने पर बनवाया था मकान पवन शर्मा मूलत: कन्नौज के जलालाबाद कस्बे के रहने वाले थे। शाहबाद क्षेत्र में नौकरी लगने के कारण वह यहां मकान बनाकर रहने लगे थे। इसी मुहल्ले में उनकी बहन अर्चना व अल्का की ससुराल है। नौकरी लगने के बाद पत्नी बदायूं चली गई। पवन के भाई आलोक शर्मा कानपुर आयुध निर्माणी में कार्यरत हैं। दोपहर बाद स्वजन व शिल्पी भी बच्चों के साथ आ गईं। पति का शव देख वह गुमसुम हो गईं। इस बीच अमित ने भाई के पत्नी की ओर से परेशान रहने का आरोप भी लगाया। हालांकि इस दौरान शिल्पी चुप रहीं। वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह अमित को शांत किया। प्रभारी निरीक्षक सदर बाजार धर्मेंद्र गुप्ता ने बताया कि पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। अगर स्वजन जांच चाहेंगे तो की जाएगी।

Edited By: Jagran