जेएनएन, शाहजहांपुर : नगर निगम बनने के लगभग डेढ़ वर्ष के बाद शहर के स्मार्ट बनने की शुरुआत हो गई है। अगले दो से तीन वर्षों में यहां का कायाकल्प नजर आएगा। मंगलवार को कैबिनेट की मीटिग में सीवर लाइन के लिए जहां 377 करोड़ से अधिक के बजट को मंजूरी मिल गई वहीं स्मार्ट सिटी के लिए भी 25 करोड़ का अनुपूरक बजट पास हो गया है। जिला अस्पताल को उच्चीकृत करने के लिए पांच करोड़ की किस्त जारी की जाएगी। -------------------

सीवर लाइन से लाभ :

- नालों का पानी परिशोधित होने से गर्रा व खन्नौत होंगी प्रदूषणमुक्त

- 337 करोड़ से ज्यादा के बजट से 186 किमी. बिछेगी सीवर लाइन

- 1979-80 में मिली थी मंजूरी, धन आवंटन न होने के कारण रुका था कार्य

------------

ये होंगे लाभ

- सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) से शुद्ध होकर नदी में बहेगा नालों का पानी

- मघई टोला में बनेगा एक सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट व मुख्य पंपिग स्टेशन

- तीन वर्ष लगेंगे काम पूरा होने में, तीन जोन में बांटकर कराया जाएगा काम

- शहर के 35 मुहल्लों में बनेगी सीवर लाइन

---------------------------

स्मार्ट सिटी के लाभ :

- स्मार्ट सिटी में सड़कों का होगा चौड़ीकरण, लगेंगी ट्रैफिक लाइट

- इलेक्ट्रिक सार्वजनिक परिवहन सेवाएं मिलेंगी, बेहतर होगी यातायात व्यवस्था

- फ्लाई ओवर व अंडरपास बनाए जाएंगे, प्रदूषण की रोकथाम के होंगे इंतजाम

- महानगर में सफाई के साथ ही बिजली, पानी व अन्य व्यवस्थाएं होंगी ज्यादा बेहतर

- मल्टीनेशनल कंपनियां व बड़े ब्रांड शहर में करेंगे निवेश, मिलेंगी ज्यादा सुविधाएं

----------------

अस्पताल में लगेंगे अत्याधुनिक उपकरण

जिला अस्पताल की पैथालॉजी को और ज्यादा हाईटेक किया जाएगा। अस्पताल में वेंटिलेटर की सुविधा शुरू करने का भी प्रयास है। मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. अभय कुमार सिन्हा ने बताया कि लोगों को बेहतर सुविधाएं मिलें यह ध्यान में रखकर बजट का प्रयोग होगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप