जेएनएन, शाहजहांपुर: आइटीआइ में रोबोट और ड्रोन टेक्नोलॉजी के पाठ्यक्रम शुरू किए जाएंगे। सरकार ने नई तक तकनीक के पाठ्यक्रमों को प्रोत्साहन की मंजूरी दे दी है। इन पाठ्यक्रमों से फसलों की सिचाई और दवा छिड़काव में बड़ा लाभ होगा।

यह जानकारी व्यवसायिक शिक्षा तथा कौशल विकास मिशन के संयुक्त निदेशक राजेंद्र प्रसाद ने शनिवार को जागरण से बातचीत में दी। शाहजहांपुर राजकीय पॉलिटेक्निक में श्रम एवं सेवायोजन विभाग की ओर से आयोजित रोजगार मेला में आए संयुक्त निदेशक ने बताया मंडल में तीन साल के भीतर अब तक 38 रोजगार मेलों का आयोजन कर 17000 लोगों को रोजगार दिया जा चुका है। जेडी ने बताया कि कृषि क्षेत्र में आधुनिक तकनीक पर सर्वाधिक जोर दिया जा रहा है। इसके लिए फार्म मकैनिक तथा स्वॉयल टेस्टिग के पाठ्यक्रम को मंजूरी मिल चुकी हे। आगामी सत्र में रोबोट तथा ड्रोन टेक्नोलॉजी के पाठ्यक्रम शुरू करने की तैयारी है । इन पाठ्यक्रमों के लागू होने के बाद पेस्टीसाइड से होने वाली दुर्घटनाओं पर विराम लगेगा। युवाओं को रोजगार भी मुहैया हो सकेगा। उन्होंने बताया प्रथम चरण में प्रदेश के चुनिदा आइटीआइ में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में यह पाठ्यक्रम शुरू होंगे इसके बाद सभी आइटीआइ का यह पाठ्यक्रम हिस्सा बन सकते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस