शाहजहांपुर, जेएनएन : संभागीय खाद्य नियंत्रक जोगेंद्र सिंह ने सेामवार को धान खरीद का निरीक्षण किया। उन्होंने धान खरीद की धीमी गति तथा समय से उठान न होने पर नाराजगी जताई। छोटे काश्तकारों को धान खरीद में वरीयता के निर्देश दिए। सुबह नौ से दोपहर एक बजे का समय सिर्फ लघु व सीमांत काश्तकारों से धान खरीद के लिए नियत करने को कहा। रोजा मंडी में आरएफसी से राइस मिलर्स से भी मुलाकात की। सीएमआर चावल में टूटन की समस्या से अवगत कराया।

धान उठान न होने पर जताई नाराजगी

संस, रोजा : संभागीय खाद्य नियंत्रक व बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगेंद्र सिंह ने आरएमओ राम मूर्ति वर्मा के साथ मंडी समिति का निरीक्षण किया। उनके साथ उप निदेशक शिवमंगल चंदेल, डिप्टी आरएमओ कमलेश कुमार पांडेय भी थे। जोगेंद्र सिंह ने धान खरीद के बाद उठान न होने व कई-कई दिन तक किसानों की तौल न होने पर नाराजगी जताई। डिप्टी डायरेक्टर शिवमंगल चंदेल समेत संबंधित अधिकारियों को प्रति कांटा 300 क्विटल धान तौल करने व केंद्रों पर मजदूर बढ़ाने के निर्देश दिए।

राइस मिलर्स ने की नवागत आरएफसी से मुलाकात

आरएफसी ने राइस मिलर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल से भी मुलाकात की। एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राम किशोर गुप्ता, रमाकांत मोदी के साथ सुधीर अग्रवाल, विवेक अग्रवाल ने धान खरीद समस्याओं से अवगत कराया। सुधीर अग्रवाल ने धान टूटन की समस्याओं के बारे में बताया। जिस पर उन्होंने सभी समाधान के निस्तारण का आश्वासन दिया। कहा कि चावल की टूटन में छूट शासन स्तर का मामला है। वह इसमें मदद करेंगे। आरएफसी के निरीक्षण का असर भी दिखा। सोमवार को आवक के सापेक्ष 50 फीसद खरीद हो चुकी थी।

पुवायां में दस केंद्र देखे, बंडा में बढ़ाए केंद्र

संस, पुवायां : धान खरीद को लेकर परेशान किसानों को आरएफसी जोगेंद्र सिंह ने राहत प्रदान की। किसानों शिकायत पर उन्हेांने अपने सामने टोकन दिलवाए। केंद्र प्रभारियों को रोजाना प्रतीक्षा रजिस्टर के साथ सुबह नौ से दोपहर एक बजे तक छोटे किसानों को धान खरीद के निर्देश दिए। यहां दस क्रय केंद्रों के निरीक्षण के दौरान किसानों की समस्याएं सुनी।

बंडा में शाम पांच बजे पहुचे आरएफसी जोगेंदर सिंह मंडी पहुंचे। 117 ढेरियां देखी। किसानों को मंडी गेट पर ट्रॉली को रोककर किसानों को साफ सुथरा धान लाने को प्रेरित किया। विपणन अधिकारी आरके सोनकर को एक केंद्र भी बढ़ाने का निर्देश दिया। इससे पूर्व एडीएम गिरिजेश चौधरी, एसडीएम दशरथ कुमार व सीओ नवनीत कुमार नायक ने निरीक्षण किया। नायब तहसीलदार भानु प्रताप को जो मंडी में दस दिन से लगे हुए किसानों की सूची बनवाकर प्रति किसान सौ क्विटल धान रोज तौल कराने के निर्देश दिए।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप