जेएनएन, शाहजहांपुर : मैरिज लॉन संचालक एवं भाजपा नेता की रविवार सुबह गोली लगने से मौत हो गई। पिता को शव मैरिज लॉन परिसर में पड़ा मिला।

क्षेत्र के मुहल्ला महाजनान निवासी भाजपा नगरा कोषाध्यक्ष सौरभ गुप्ता का जलालाबाद- फर्रुखाबाद मार्ग पर बिहारी वाटिका मैरिज लॉन है। सौरभ, रविवार सुबह करीब आठ बजे घर में पूजन करने के बाद स्वजन से मैरिज लॉन जाने की बात कहकर निकले। कुछ देर बाद पिता विनोद गुप्ता जब मैरिज लॉन पहुंचे, तो बेटे सौरभ का शव पेड़ के नीचे पड़ा मिला। कनपटी के पास गोली लगी थी। पास में ही तमंचा पड़ा था। आबादी से दूर मैरिज लॉज होने की वजह से किसी ने गोली की आवाज भी नहीं सुनी। विनोद गुप्ता ने ही घटना की जानकारी पुलिस को दी। उन्होंने बताया सुबह सौरभ हंसी खुशी से घर से निकले थे। अचानक यह सब कैसे हो गया इसका कारण समझ नहीं पा रहे। प्रभारी निरीक्षक जसवीर सिंह ने घटना स्थल पर जाकर जांच पड़ताल की। पास पड़ोस के लोगों के साथ कुछ अन्य लोगों से भी पूछताछ की। मायके गई थी पत्नी, सूचना पर पहुंची

सौरभ की पत्नी सोनम कोविड संक्रमित हो गई थी। वह जलालाबाद में ही अपने मायके गई थी। घटना की जानकारी मिलने पर सोनम अपनी बेटी मीठी व गुड़िया के साथ मैरिज लॉन पहुंची। वह विलाप करने लगी। पिता के शव को देख तीन साल से छोटी दो बेटिया गुमसूम हो गई। पापा को क्या हो गया यह कहते हुए वह बिलख रही थी। उन्हें यह नहीं पता था कि उनके सिर से पिता का साया छिन गया पिता का बंटाते थे हाथ

सौरभ चार भाई-बहनों में दूसरे नंबर पर थे। बड़े भाई मोहित गुप्ता बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षक के पद पर तैनात है। दो छोटी बहनें हैं। प्रथम दृष्टया जांच में मामला आत्महत्या का लगता है। सौरभ ने तमंचे से गोली मारकर जान दी है। स्वजन भी इस मामले में कोई आरोप नहीं लगा रहे है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

मस्सा सिंह, सीओ

Edited By: Jagran