जागरण संवाददाता, शाहजहांपुर : पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जितिन प्रसाद ने केंद्र सरकार व प्रदेश पर किसानों को छलने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि सिर्फ रैलियों से किसानों का भला नहीं होगा। बेहतर होगा कि प्रधानमंत्री भड़काऊ भाषण देने की बजाय किसानों के हित में योजनाएं लागू करें।

प्रधानमंत्री की किसान कल्याण रैली से पहले प्रसाद भवन पर मीडिया से मुखातिब हुए पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि जनपद के लिए बड़े सौभाग्य की बात है कि 40 साल बाद कोई प्रधानमंत्री यहां आ रहा है। एक प्रधानमंत्री के रूप में वह भी मोदी का स्वागत करते है, लेकिन यहां आकर भड़काऊ भाषण की बजाय उन्हें सिर्फ किसानों की बात करनी चाहिए। जिस तरह से 40 साल पहले पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी ने जिले क सात सौ करोड़ रुपये के खाद प्लांट की सौगात दी थी। उसी तरह नरेंद्र मोदी को भी जिले की जनता का कल्याण करना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ माह पहले अचानक उन्होंने जिले की रोजा मंडी में छापा मारा, लेकिन नतीजा शून्य निकला। मुख्यमंत्री बताएं कि गेहूं खरीद में 80 सेंटर क्यों निरस्त करने पड़े, अगर निरस्त किए गए तो उन पर प्रशासन ने खरीद क्यों कराई थी। इस मौके पर जिलाध्यक्ष कौशल मिश्र, पूर्व जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र दीक्षित, अशफाक उल्ला खां, फुरकान अहमद कुरैशी आदि मौजूद रहे।

----------------

जिले में दो मंत्री, लेकिन विकास शून्य

जितिन प्रसाद ने कहा कृष्णाराज कृषि राज्यमंत्री होते हुए भी अब तक जिले के किसानों के लिए एक भी योजना नहीं ला पाईं। यहीं स्थित प्रदेश सरकार में नंबर दो का ओहदा रखने वाले कैबिनेट मंत्री सुरेश कुमार खन्ना की है। वह जिले में एक भी सड़क नहीं बनवा पाए। ¨रग रोड में भी पूरी तरह से राजनीति हावी रही है।

Posted By: Jagran