शाहजहांपुर, जेएनएन : जिले में आंधी व बारिश से बेपटरी बिजली आपूर्ति अभी पूरी तरह सुचारू नहीं हो सकी है। कलान, खुदागंज में बिजली संकट गहरा गया है। मदनापुर में आपूर्ति पटरी पर नहीं आ पा रही है। वहीं, बादशाहनगर उपकेंद्र के कहिलिया फीडर का शनिवार को केबल बाक्स फटा गया। इससे क्षेत्र में फिर से सप्लाई गुल हो गई। बाराकला में 10 दिन बाद बाद भी बिजली संकट बरकरार

संवाद सहयोगी कलान : बाराकला गांव में आठ सितंबर को ट्रांसफार्मर सही करते समय प्राइवेट कर्मचारी संजीव कुमार की मौत हुई। इसके बाद से क्षेत्र में बिजली संकट बना है। किसी कर्मचारी की नियुक्ति न होने से बाराकला के 450 उपभोक्ताओं को बिजली नहीं मिल पा रही है। एसडीओ आरके सिंह ने बताया जल्द आपूर्ति सुचारू कराई जाएगी। लोकल फाल्ट से जूझ रहे उपभोक्ता

संसू, मदनापुर : क्षेत्र में लो वोल्टेज के साथ लोकल फाल्ट बढ़ रहे है। शनिवार को भी 18 घंटे बाद बिजली आपूति सुचारू हुई, लेकिन इसके बाद लाइन के तार टूट जाने से बिजली संकट छा गया।

-------------------- छह दिन से आपूर्ति ठप

खुदागंज : तेज हवा व बारिश से छह दिन पूर्व खुदागंज क्षेत्र के म्यूना गांव में ट्रांसफार्मर गिर गया था। ग्रामीणों ने क्षेत्रीय उपकेंद्र में शिकायत की। लेकिन, अभी तक न तो ट्रांसफार्मर व खंभे को उठाया और न ही बिजली आपूर्ति को सुचारू किया। चार दिन बाद भी 84 गांव में छाया अंधेरा

अल्हागंज : विद्युत कार्मिकों की लापरवाही से चार दिन से 84 गांवों में ब्लैक आउट है। हालांकि नगर की आपूर्ति सुचारू होने से लोगों को राहत मिली है। लेकिन, हाईटेंशन लाइन का फाल्ट दूर न होने से 84 गांव में बिजली संकट बना हुआ है।

Edited By: Jagran