संत कबीरनगर:

सिद्धार्थ विश्वविद्यालय की परीक्षा 29 फरवरी से प्रारंभ हो रही है। लेकिन जिले के केंद्रों पर उत्तरपुस्तिकाओं का इंतजार है। दो दिन का समय शेष है इसमें सादी उत्तरपुस्तिका के साथ सील बंद प्रश्नपत्र भी केंद्रों पर भेजना है। हीरालाल रामनिवास स्नात्कोत्तर महाविद्यालय (एचआरपीजी) खलीलाबाद को जिले नोडल केंद्र बनाया गया है। नोडल केंद्र प्रभारी डा.रामसोच यादव ने बताया कि गुरुवार तक उत्तरपुस्तिका केंद्रों पर पहुंचेगी। सभी 33 केंद्रों पर शुचितापूर्ण परीक्षा संपन्न कराई जाएगी। परीक्षा के बाद निर्धारित समय सीमा के भीतर दोनों पाली की सीलबंद उत्तरपुस्तिका जमा की जाएगी।

-------------------

प्रवेशपत्र के चक्कर काट रहे विद्यार्थी

-महाविद्यालयों में परीक्षा प्रवेशपत्र लेने के लिए होड़ मची है। एक राजकीय महिला महाविद्यालय, एक वित्त पोषित के साथ 64 स्ववित्त पोषित महाविद्यालय में प्रवेश पत्र का वितरण किया जा रहा है। एचआरपीजी कालेज खलीलाबाद में सुबह नौ बजे से ही छात्र-छात्राओं की कतार लग गई। पुस्तकालय व अन्य खिड़की स्नातक, स्नातकोत्तर कक्षाओं के विद्यार्थी जुटे रहे। अव्यवस्था के चलते छात्र-छात्राओं को परेशान होना पड़ा। काउंटर पर होड़ लगी रही। अनेक विद्यार्थियों ने विभाग व पुस्तकालय में हस्ताक्षर कराकर अनापत्ति प्रमाणपत्र देकर प्रवेश पत्र प्राप्त किया। प्राचार्य कक्ष से लेकर पुस्तकालय तक विद्यार्थियों का तांता लगा रहा।

------------------

क्या आप हमारे वहां के ही विद्यार्थी हैं ?

महाविद्यालयों में परीक्षा निकट आने पर अजब-गजब की स्थिति देखने को मिल रही है। ऐसे भी विद्यार्थी पहुंच रहे जो अब तक महाविद्यालय दर्शन नहीं किए थे। पता पूछते महाविद्यालय पहुंच रहे हैं। शहर के एक केंद्र पर परीक्षार्थी के पहुंचने पर गुरुजी भौचक रहे गए। काउंटर से परे होकर कार्यालय पहुंचकर कुर्सी खींच बैठने पर जब प्रवेश पत्र मांगा तो रशीद आदि की औपचारिकता पूरी हुई। इसी एक शिक्षक ने कहा क्या आप हमारे वहां के ही विद्यार्थी हैं।

----

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस