संतकबीर नगर : दो अज्ञात खाकी वर्दीधारियों पर युवक को बिना कुछ बताए उठाने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित की पत्नी ने मेंहदावल थाने पर तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। घटनास्थल गोरखपुर जनपद के पीपीगंज थाने से जुड़ा है, जिससे मेंहदावल पुलिस सोच समझकर कदम उठा रही है।

मेंहदावल पुलिस को दिए गए तहरीर में कौशल्या देवी निवासी ग्राम कौवाठोर थाना मेंहदावल ने लिखा है कि वह अपने पति भगौती के साथ पीपीगंज दुर्गा मंदिर जनपद गोरखपुर में रहती है। गुरुवार की सुबह पांच बजे पुलिस के वर्दी में दो अज्ञात लोगों ने मेरे पति को जबरन उठा लिया। पूछने पर उन्होंने बताया की उन्हें मेंहदावल ले जाया जा रहा है। पति के साथ में खुद आना चाही तो वर्दीधारियों ने गाली देकर भगा दिया तथा मोबाइल भी छीन लिए। मेंहदावल आकर पति की खोजबीन किया तथा हुलिया बताकर लोगों से पूछताछ की। पता चला कि मेंहदावल थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति के साथ उनके घर पर उनके पति को देखा गया है। वहां जाकर पता करने से ज्ञात हुआ कि आरोपित के द्वारा मेरे पति से उनकी पैतृक संपत्ति का बैनामा जबरन कराने के लिए उनको उठवा लिया गया तथा उन्हें अज्ञात स्थान पर ठहराए हुए हैं। ऐसी स्थिति में पति के जानमाल तथा संपत्ति का खतरा बना हुआ है। पीड़ित ने मेंहदावल पुलिस से पति की बरामदगी की मांग करते हुए उचित कार्रवाई की मांग की है। इस मामले में पुलिस के प्रथमदृष्टया छानबीन में भूमि का बैनामा करने को लेकर भगौती के द्वारा पैसा लिए जाने की बात सामने आ रही है तथा जमीन का बैनामा करने से वह मुकर रहे हैं। फिलहाल पुलिस जांच कर रही है। घटना गोरखपुर जनपद में हुआ है। महिला को पीपीगंज थाने में तहरीर देने की सलाह दी गई है। तहरीर में मेंहदावल के जिस आरोपित का उल्लेख किया गया है उसके यहां पुलिसकर्मियों को भेजकर मामले की जांच कराई जा रही है। तय प्रक्रिया व नियम का पालन करते हुए पुलिस उचित कार्रवाई करेगी।

जयवर्धन सिंह, प्रभारी निरीक्षक, मेंहदावल।