संतकबीर नगर: कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र के असनहरा गांव में कठिनइया नदी पर पक्का पुल को लेकर रविवार को भी धरना-प्रदर्शन जारी रहा। 40 वें दिन पूर्व निर्धारित चक्का जाम कार्यक्रम स्थगित करके सत्याग्रहियों ने उपवास शुरू किया। अब 18 सितंबर को जल समाधि की चेतावनी दी।

असनहर में पक्का पुल के लिए एक अगस्त से धरना दे रहे जल संघर्ष समाधि मोर्चा के सदस्यों ने रविवार को रेल व सड़क मार्ग जाम करने का निर्णय लिया था। सुबह अचानक कार्यक्रम अनिश्चित काल के लिए निरस्त करके 11 सदस्यों ने उपवास शुरू कर दिया। शैलेश कुमार राजभर ने कहा कि पक्का पुल बनाने की मांग को लेकर छह वर्ष में तीसरा आंदोलन है जो सबसे लंबा चल रहा है। कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने आश्वासन दिया है। अभियंताओं की टीम सर्व कर रही है लेकिन अभी तक कोई सार्थक पहल सामने नहीं आया। जब तक पुल व सड़क का निर्माण शुरू नहीं होता है आंदोलन जारी रहेगा।

इस मौके पर सरोजा राजभर, अध्यक्ष यशवंत उर्फ ¨सटू चौधरी, रामदीन राजभर, मोलहू दास, सुखराम, देवेंद्र, रामकेश, रामचेत, रामनेवास, रामसूरत, राममिलन,जीतन,महेंद्र, बेचू, संतराम, अजय शर्मा, संजय शर्मा, राजू गोंड, श्रवण पांडेय, बेचन गुप्ता, रामशब्द गुप्ता, केवला देवी, मन्नी देवी, शोभा, प्रभावती, परमा, श्यामदुलारी, शांति, अनारा, बेईला देवी, मुनिराम, करमावती, महिपति, मेवाती, सुदामा देवी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran