संतकबीर नगर: पंडित राधे रमण सरस्वती विद्या मंदिर बखिरा बूंदीपार में मंगलवार को वीर सपूत क्रांतिकारी शहीद चंद्रशेखर आजाद की जयंती मनाई गई। प्रतिमा व चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित किया गया।

प्रधानाचार्य कौशल किशोर मिश्र ने चंद्रशेखर आजाद के जीवन से सीख लेने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि भारत मां को अंग्रेजों के जुल्म से आजाद कराने के लिए मुस्कुराते हुए जान लुटाने वालों में से चंद्रशेखर आजाद एक थे। वह पैदा तो चंद्रशेखर तिवारी बनकर हुए थे लेकिन शहीद हुए आजाद बनकर। मुकेश जायसवाल ने कहा कि पूर्ण स्वराज के पक्षधर रहे।

इस मौके पर कृष्णचंद उपाध्याय, पलक गुप्ता, नूतन पांडे, महेंद्र मणि, मोदी, रेनू सिंह आदि अमर मौजूद रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस