संतकबीर नगर : जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने गुरुवार को हत्या के जुर्म में आजीवन कारावास काट रहे एक कैदी की आंख का सफल आपरेशन किया। इस दौरान अस्पताल के आपरेशन कक्ष के बाहर भरी मात्रा में पुलिस बल तैनात रही। आपरेशन के बाद कैदी को वार्ड में भर्ती करवा दिया गया।

जिला कारागार में हत्या के आरोप में तीन वर्ष से आजीवन कारावास की सजा काट रहे महुली थाना क्षेत्र के चंद्रौटी निवासी अनिरुद्ध यादव की दोनों आंखों से नहीं दिखता था। कैदियों की स्वास्थ्य जांच के दौरान इसके आंख का आपरेशन करने की सलाह जिला जेल के डा. वरुणेश ने जेलर व उच्चाधिकारियों को अपनी रिपोर्ट दी, जिस पर जेलर जेआर वर्मा ने इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक डा. कौस्तुभ व अन्य अधिकारियों को दी। एसपी डा. कौस्तुभ ने सीएमएस डा. ओपी चतुर्वेदी से कैदी के आंख का आपरेशन करने के लिए पत्र भेजा, जिस पर नेत्र सर्जन डा. राम गोपाल गुप्ता, फार्मासिस्ट डीपी सिंह, धनश्याम श्रीवास्तव, नेत्र परीक्षण अधिकारी अनिल कुमार मिश्रा व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की टीम ने कैदी के आंख का सफल आपरेशन किया। आपरेशन के बाद कैदी को वार्ड में भर्ती किया गया है।

पदोन्नति पर डीएम व एसपी ने दीवान को लगाया स्टार

जिलाधिकारी दिव्या मित्तल व एसपी डा. कौस्तुभ ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट में दीवान से पदोन्नति होकर दारोगा बनने वाले दीवान अमलेश यादव को स्टार व रीबन लगाकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

डीएम व एसपी ने बताया कि अमलेश यादव अपने ड्यूटी के प्रति काफी सजग रहते हैं। विभागीय कार्य को पूरी निष्ठा के साथ हमेशा करते रहते हैं। ऐसे पुलिसकर्मियों से अन्य विभागीय लोगों को सीख लेनी चाहिए।

Edited By: Jagran