संतकबीर नगर: डीएम गुरुवार की दोपहर में लगभग 12 बजे हैंसर ब्लाक पहुंचे। उन्होंने अभिलेखों को देखने के बाद ग्राम पंचायत फुलुई में विकास कार्यों का भौतिक सत्यापन किया। कोचरी स्थित गोआश्रय स्थल का भी उन्होंने जांच किया।

जिलाधिकारी रवीश गुप्त के पहुंचने पर हैंसर ब्लाक के अधिकांश कर्मचारी अनुपस्थित रहे। उन्होंने इसे लेकर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्रवाई करने की चेतावनी दी।फुलुई में उन्होंने मनरेगा योजना व राज्य वित्त के साथ ही चौदहवें वित्त से करवाए गए कार्यों का भैतिक सत्यापन किया। उन्होंने खड़ंजे की माप करवाने के साथ ही नाली निर्माण कार्य को देखा। कार्यों से वह संतुष्ट दिखे। कोचरी गोशाला पर 51 पशु मौजूद मिले। यहां भी व्यवस्था ठीक मिली। इस दौरान बीडीओ विजय कुमार पांडेय, ग्राम प्रधान हरिश्चंद्र यादव ,सुरेश बहादुर सिंह, देशदीपक वर्मा,सुग्रीव राजभर,हेमंत मिश्र, एडीओ कृषि श्रवणकुमार पांडेय आदि लोग मौजूद रहे ।

बच्चों रहे हाजिर जवाब,सकपका गए शिक्षक

डीएम द्वारा प्राथमिक विद्यालय कोचरी की जांच की गई। यहां तैनात शिक्षक विद्यालय में नामांकित बालक-बालिकाओं की अलग-अलग संख्या बताने में सकपका गए। हालांकि कुछ देर बाद सही संख्या बताई गई। यहां के बच्चों ने जिलाधिकारी के सवालों का सही उत्तर दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस