संतकबीर नगर: इस जिले में शनिवार को 1300 मीट्रिक टन (एमटी) डीएपी पहुंच जाएगी। यह खाद उसी दिन सभी साधन सहकारी समितियों, एग्री जंक्शन केंद्र, डीसीएफ सहित अन्य बिक्री केंद्रों पर भेज दी जाएगी। यह डीएपी उड़ीसा के पारादीप से जिले में पहुंचेगी। माना जा रहा है इसके मिल जाने के बाद डीएपी की किल्लत दूर हो जाएगी।

फिलहाल जिले में 450 एमटी डीएपी उपलब्ध है। जिले के 339 बिक्री केंद्रों के जरिए अब तक 5900 एमटी डीएपी, 7000 एमटी यूरिया, 5500 एमटी सिगल सुपर फास्फेट (एसएसपी) व 750 एमटी पोटाश का वितरण किया जा चुका है। जिला कृषि अधिकारी पीसी विश्वकर्मा ने कहा कि किसान खाद खरीदने के बाद विक्रेता से प्वाइंट आफ सेल (पीओएस) से निकली रसीद जरूर प्राप्त करें। रसीद में देखें कि जितना आपने प्रति बोरी खाद के लिए पैसा दिया है, उतना मूल्य अंकित है या नहीं ? यदि कोई विक्रेता तय दर से अधिक पर खाद बेचे व रसीद न दे तो इसकी शिकायत उन्हें तुरंत मोबाइल नंबर 8218025001 पर करें। इस पर तुरंत प्रभावी कार्रवाई होगी। देश में जाति आधारित जनगणना कराई जाए

संतकबीर नगर: राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के जिलाध्यक्ष सूर्यभान चौरसिया ने गुरुवार को कहा कि देश में जाति आधारित जनगणना कराई जाए। ईवीएम के साथ लगाए जाने वाले पेपर ट्रेल मशीन से निकलने वाली सभी पर्चियों का मिलाने करने की व्यवस्था की जाए। यदि ऐसा न हो पाए तो बैलेट पेपर से चुनाव कराया जाए। पुरानी पेंशन व्यवस्था को लागू किया जाए। उन्होंने इन सब मामलों को लेकर कलेक्ट्रेट में एडीएम को ज्ञापन भी सौंपा। इस अवसर पर सिद्धनाथ शर्मा, धनंजय, शैलेष, दुर्गेश, अक्षय, राहुल आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran