संतकबीर नगर: संचार के क्षेत्र में देश के सार्वजनिक क्षेत्र की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के लैंडलाइन से उपभोक्ताओं का मोहभंग हो गया। दशा यह है कि जहां दो वर्ष पहले जिले में लैंडलाइन फोन के उपभोक्ताओं की संख्या 35 सौ थी वह अब घटकर सिर्फ तीन सौ रह गई है। जिम्मेदार भी मान रहे हैं कि जल्द ही लैंडलाइन की संख्या शून्य हो जाएगी।

तीन दशक पहले बीएसएनएल का फोन स्टेटस सिबल था। लोग घरों में लैंडलाइन फोन लगवाने को प्राथमिकता देते थे। मोबाइल के इस दौर में और बेतहर व्यवस्था के चलते लैंडलाइन से लोगों का मोहभंग हो गया है।

उपखंड अधिकारी मनोज कुमार यादव ने बताया कि मोबाइल का प्रचलन बढ़ने से लैंडलाइन सेवा पर बुरा प्रभाव पड़ा है। उन्होंने कहा कि बीएसएनएल के मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या वर्ष भर में दस प्रतिशत बढ़ी है। बजट यदि समय से मिला करता तो उपभोक्ताओं को और बेहतर सेवा दी जा सकती है ।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस