संतकबीर नगर: ऐसा प्रतीत होता है कि कोरोना के नये वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर कुछ लोगों में भय नहीं है। यही कारण है कि शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में कई लोग बिना मास्क के आते-जाते हैं। दुकानों, बाजारों व अन्य प्रतिष्ठानों में हर दिन कोविड प्रोटोकाल की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। जबकि कोरोना संक्रमित लगातार मिल रहे हैं। लोगों की यह लापरवाही उनके सेहत पर भारी पड़ सकती है।

डीएम दिव्या मित्तल ने बीते दिनों कलेक्ट्रेट सभागार में ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर बैठक की थी। उन्होंने एसपी डा. कौस्तुभ की मौजूदगी में चेतावनी दी थी कि बिना मास्क के घूमने वाले लोगों का चालान काटा जाए। जनपद के शहर व ग्रामीण क्षेत्रों के सभी कारोबारी दुकान के पास गोला बनवाएं। ग्राहक गोले में खड़े रहेंगे, बारी-बारी से सामान खरीदेंगे। प्रशासन व पुलिस के अधिकारी भ्रमण कर इसका जायजा लें। इसका उल्लंघन होने पर संबंधित लोगों पर कार्रवाई करें। गैर प्रांतों से आने वाले प्रवासियों की कोरोना जांच करें। संक्रमण मिलने पर ऐसे लोगों को तुरंत क्वारंटीन करें। कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जाए। धरातल की स्थिति यह है कि खलीलाबाद शहर के सामुदायिक स्वास्थ्य खलीलाबाद के सामने, बैंक रोड, मुखलिसपुर तिराहा, चंद्रशेखर तिराहा, खलीलाबाद बाईपास, बरदहिया बाजार सहित अन्य स्थानों पर हर दिन कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन किया जा रहा है। जिला प्रशासन कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन कराने में फिलहाल नाकाम साबित हुआ है। कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वह स्वयं इसकी जांच के लिए विभिन्न जगहों का भ्रमण करेंगी। जिले के अन्य अधिकारी भी यह कार्य करेंगे। जनपद के सभी लोग सेहत की सुरक्षा के लिए नए वैरिएंट को लेकर सतर्कता बरतें।

दिव्या मित्तल, जिलाधिकारी

Edited By: Jagran