संत कबीरनगर : नगरपालिका परिषद खलीलाबाद में पुराने कार्यों को नया दर्शाकर सरकारी धन हड़पने का प्रयास हुआ है। पूर्व में हो चुके करीब 80 लाख के काम को जिम्मेदारों ने नया दर्शाकर उसका टेंडर भी करवा दिया। मामला तब खुला जब आधा दर्जन से अधिक सभासदों ने ही टेंडर पर सवाल उठाते हुए जांच की मांग की। जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए उपजिलाधिकारी को जांच सौंपकर एक सप्ताह के अंदर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। इसके बाद से परिषद के जिम्मेदारों और ठेकेदारों में खलबली मची है।

सभासद त्रिभुअन गुप्ता, विपिन जायसवाल, अरुणेंद्र सिंह, शैलेष कुमार, सुनीता यादव, ऋषि यादव, मनोज की मानें तो निकाय के विभिन्न वार्डों में निर्माण के संबंध में बीते 21 जुलाई को टेंडर डलवाया गया। इसमें कई का काम 14वें वित्त व राज्य वित्त से पूर्व में हो चुका है। इसी पुराने काम को नया दर्शाकर सरकारी धनराशि हड़पने का प्रयास किया गया है। इसके लिए टेंडर डलवाकर 15 दिन का समय देकर फर्जी भुगतान लेने की रूपरेखा तैयार की गई। किस काम पर उठे सवाल

-गोला बाजार उत्तरी में आदर्श होटल के पीछे शिवजी के मकान तक छह लाख रुपये में नाली व स्लैब निर्माण कार्य।

-18 लाख की लागत से मड़या में राष्ट्रीय राजमार्ग से छात्रावास तक नाला निर्माण कार्य।

-17 लाख की लागत से मड़या में नेहरू छात्रावास से कच्चा नाला तक पक्का नाला निर्माण कार्य।

- 5.90 लाख की लागत से स्टेशन पुरवा में पालिका रोड से सीटी पब्लिक स्कूल के पीछे तक इंटरलाकिग, नाली व स्लैब निर्माण कार्य।

-4.91 लाख रुपये की लागत से मोतीनगर उत्तरी में पिच रोड से राजेश वर्मा के मकान तक इंटरलाकिग व नाली निर्माण कार्य।

-5.40 लाख रुपये की लागत से बंजरिया पूर्वी में नगरपालिका की सड़क से मनोज सिंह के मकान तक सीसी रोड व नाली निर्माण।

-23.11 लाख रुपये की लागत से बरदहिया बाजार में मुख्य मार्ग से रेलवे पटरी तक इंटरलाकिग का काम। सभासदों की मांग पर मामले की जांच करवाई जा रही है। इसके लिए उप जिलाधिकारी को नामित किया गया है। यदि पहले काम हो गया है तो यह गंभीर मामला है।

रवीश गुप्त-डीएम

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस