जेएनएन, बबराला : गुन्नौर थाना क्षेत्र में गाजियाबाद से कादराबाद देवी दर्शन को जा रहे लोगों की कार का चालक रास्ता भटक गया। ऐसे में चालक कार को लेकर बबराला की ओर जाने लगा, लेकिन इसी बीच अचानक झपकी आने से कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पुलिया से टकरा गई। हादसे की सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। जहां चिकित्सक ने एक युवक को मृत घोषित कर दिया। जबकि चार घायल हो गए थे।

बुधवार को गाजियाबाद में खोड़ा स्थित प्रताप नगर कालोनी निवासी 45 वर्षीय रामौतार पुत्र नारायन, शंकर देवी पत्नी रामौतार कार से गुन्नौर तहसील क्षेत्र के कादराबाद में स्थित देवी दर्शन को जा रहे थे। रामौतार के साथ उनके साढू वेद प्रकाश व उनकी पत्नी अनार देवी भी थीं। साथ में मोनू पुत्र योगेश भी था। स्वजन ने बताया कि वह जैसे ही कार द्वारा मुरादाबाद आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर पहुंचे तभी चालक रास्ता भटक गया। जैसे ही हाइवे पर स्थित गांव गुन्नौर हीरापुर इटऊआ के पास पहुंचे तभी रात में अचानक चालक को झपकी आ गई, जिससे कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पुलिया से टकरा गई। मौका पाते ही कार चालक वहां से फरार हो गया। हादसे की सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और घायलों को 108 एंबुलेंस की मदद से उपचार के लिए गुन्नौर सीएचसी भिजवाया। जहां चिकित्सक ने रामौतार को देखते ही मृत घोषित कर दिया। जबकि अन्य घायलों को उपचार किया जा रहा है। हादसे की जानकारी मिलने पर स्वजन भी अस्पताल पहुंच गए। गाजियाबाद से गुन्नौर पहुंचे स्वजन ने बताया कि सभी लोग किराए की कार में सवार होकर कादराबाद देवी के दर्शन करने जा रहे थे, लेकिन चालक द्वारा रास्ता भटक जाने के कारण वह दूसरे रास्ते पर पहुंच गए और हादसा हो गया। उन्होंने बताया कि शंकर देवी व अनार देवी दोनों सगी बहनें हैं। बबराला चौकी प्रभारी रामपाल सिंह ने बताया कि स्वजन भी हादसे की सूचना पर गुन्नौर आ गए।

Edited By: Jagran