सम्भल : सम्भल के सिरसी बिलारी मार्ग पर कस्बा से थोड़ा आगे वाहन चेकिग के दौरान जब पुलिस ने नीले रंग की कार को रोका तो उसमें सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोली चला दी। इससे नखासा थाने के सिपाही को पैर में गोली लगी। पुलिस ने भी फायरिग की। वाहन छोड़कर दो बदमाश तो फरार हो गए लेकिन एक को पकड़ लिया गया। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने बदायूं के बिल्सी से एक अन्य को गिरफ्तार किया। बदमाश के पैर में गोली लगी। बदमाशों ने सम्भल के नखासा में बैंक ऑफ बड़ौदा का एटीएम काटकर 10 लाख रुपये उड़ाये थे। इनके पास 3.5 लाख की नकदी मिली है और तमंचा सहित अन्य सामान मिले हैं।

मुरादाबाद की तरफ से सिरसी होकर एक नीले रंग की कार बिलारी की तरफ निकली। कस्बा से कुछ दूर आगे ही पुलिस टीम रविवार को तड़के चार बजे वाहन चेकिग में लगी थी। इसी दौरान रोकने पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिग कर दी। कांस्टेबल पुष्पराज घायल हो गया। उसे हाथ में छर्रे लगे। उधर पुलिस ने फायरिग की तो वाहन से उतरकर दो बदमाश भाग गए जबकि तीसरा भागते समय पुलिस की गोली का शिकार हुआ। उसे पैर में गोली लगी। पुलिस ने उसे दबोचा और कार की तलाशी ली तो कार में से गैस कटर और नकदी मिली। इसके अलावा दो तमंचा 315 बोर, दो खोखा कारतूस, आठ कारतूस, दो सिलेंडर, एक हथौड़ी, पेंट स्प्रे, लोहे का जम्बूड़ बरामद हुआ। पूछताछ में बदमाश ने अपना नाम शाहरूख उर्फ समीर पुत्र साबिर निवासी कस्बा कोसी कला, थाना कोसी कला मथुरा बताया। उसके बताए पर पुलिस ने इशरत पुत्र कल्लू खान, निवासी ब्राम बेहटा गुसाई थाना बिल्सी जनपद बदायूं को गिरफ्तार किया। पूछताछ में भागने वाले बदमाशों का नाम रफ्शन पुत्र यासीन निवासी तड़कपुर थाना नूह, जनपद मेवात हरियाणा तथा रहीश पुत्र शेर मोहम्मद निवासी बिशंभरा थाना शेरगढ़ जनपद मथुरा बताया। उधर मुठभेड़ की सूचना पर एएसपी आलोक जायसवाल के अलावा अन्य अफसर भी पहुंच गए। एसपी यमुना प्रसाद ने भी घटना स्थल का जायजा लिया। एसपी ने बताया कि बदमाशों से 3.5 लाख की बरामदगी की गई। इनसे पूछताछ की जा रही है। घायल सिपाही की हालत सही है। टीम में शामिल इंस्पेक्टर देवेंद्र धामा, सर्विलांस प्रभारी रविद्र सिंह, प्रभारी स्वाट टीम बिजेंद्र मलिक, एसआइ प्रमोद कुमार, बलराम सिंह व सुरेश पाल सिंह का उत्साहवर्धन किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021