सम्भल: आधी ने एक महिला की जान ले ली। आगन में खाना बना रही महिला पर पड़ोस की दीवार गिर गई। हादसे में महिला बुरी तरह से जख्मी हो गई। आनन-फानन में परिजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचे, जहा उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई। हादसे के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

हादसा असमोली थाना क्षेत्र के ग्राम मीरपुर साकीपुर का है। शुक्रवार की शाम अचानक मौसम में बदलाव आ गया। आंधी चलने लगी। असर यह था कि गावों में पेड़ व पोल तक हिलने लगे। देखते ही देखते खेतों पर मौजूद लोग भी गाव की ओर भागने लगे। उधर गाव निवासी शमशाद भी खेतों से घर की ओर भागा। उधर उसकी पत्‍‌नी यासमीन घर पर ही थी। आधी तेज थी और जब तक वह कुछ समझ पाती अचानक से आधी बढ़ गई और पड़ोसी रशीद के बाउंड्री की दीवार शमशाद के घर की तरफ गिर गई। यह दीवार अपने घर में खाना बना रही यासमीन के ऊपर ही गिर गई। तब तक शमशाद भी घर पहुंच गया था। किसी तरह मलबा हटाकर महिला को निकाला गया। इसके बाद परिजन उसे सीएचसी असमोली लेकर पहुंचे, यहा से उसे मुरादाबाद के लिए रेफर कर दिया गया। यहा इलाज के दौरान शनिवार की सुबह उसकी मौत हो गई। मौत के बाद घर में कोहराम मच गया। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। आंधी से गिरे पेड़, उड़ा ई रिक्शा का छत

जिले में आंधी के चलते कई स्थानों पर पेड़ टूट कर गिर गए। सम्भल गवां मार्ग पर पेड़ टूटने की वजह से तीन घंटे जाम लगा रहा। लोगों का आवागमन ठप हो गया। सम्भल, सौंधन, असमोली, रजपुरा, गुन्नौर में रात्रि में बूंदाबांदी होने लगी। कई स्थानों पर पेड़ गए। धूल भरी आंधी ने पहले परेशान किया जब हल्की-हल्की बरसात होने लगी तो गर्मी से राहत मिली है। इधर इस आंधी में जिले के कई स्थानों पर खंभे और पेड़ उखड़ गए। वहीं कई स्थानों पर यातायात भी बाधित हुआ है । इधर बरसात और आंधी-तूफान से जिले भर में बिजली गुल हो गई है। देर रात तक जिले में आधी और बरसात का दौर जारी रहा है इस बीच लोग अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए घरों में कैद रहे हैं। आंधी आई तो पूरे शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में बिजली गुल हो गई। विभाग ने तेज आंधी को देखते ही पूरे शहर की बिजली सप्लाई को बंद कर दिया है। जिससे पूरे जिले की बिजली चली गई। इससे लोगों को अंधेर में काफी परेशानी झेलनी पड़ी है। शहर के मोहल्ला हल्लू सराय में अचानक गुजर रहे ई-रिक्शा की तेज हवा में छत उड़ गई। चालक भी देखता रह गया। पीछे से आ रहे वाहन चालक सहम गए। हालांकि कोई हादसा नहीं हुआ। अगर इ रिक्शा की छत किसी के ऊपर गिर जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप