-एक माह से पीड़ित रिपोर्ट के लिए थाने के लगा रही है चक्कर

-राजनीतिक दवाब के चलते पुलिस नहीं कर रही रिपोर्ट दर्ज जागरण संवाददाता, रजपुरा: थाना क्षेत्र में एक माह पहले ननिहाल आई किशोरी को पड़ोसी युवक ने बुरी नीयत से दबोच लिया। विरोध करते हुए उसने शोर मचाया तो युवक किसी से बताने पर जान से मारने की धमकी देता मौके से भाग गया। मामले की तहरीर पुलिस को दी गई, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नही की। मामला एक माह पुराना है। तभी से पीड़ित कार्रवाई की मांग को लेकर थाने के चक्कर लगा रहा है। थाना क्षेत्र मे एक किशोरी अपने ननिहाल में रहकर गांव के ही विद्यालय में कक्षा छह में शिक्षा ग्रहण कर रही है। एक माह पहले देर शाम किशोरी गांव की एक हलवाई की दुकान पर से अपने मामा को खाना खाने के लिए बुलाने गई थी। रास्ते में गांव के ही कुछ युवकों ने किशोरी का रास्ता रोक लिया और उससे नजदीक ही बने विद्यालय परिसर की तरफ खींचने लगा। किशोरी ने शोर मचा दिया। आवाज सुनकर मौके की तरफ ग्रामीण दौड़ पड़े। ग्रामीणों को आता देख आरोपित मौके से फरार हो गया। किशोरी ने आपबीती परिजनों को सुनाई। मौके से परिजनों ने फोन द्वारा डायल सौ को घटना की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपितों की तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। पीड़ित ने थाना पहुंचकर लिखित में शिकायती पत्र दिया, लेकिन एक माह से लगातार परिजन अधिकारियों के चक्कर लगा रहे हैं। मगर पुलिस ने अभी तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि मामले की तहरीर अभी तक नहीं मिली है।

Posted By: Jagran