सम्भल: नखासा थाना क्षेत्र में सौतेले पिता ने 14 साल की बेटी को अपनी हवस का शिकार बनाया है। बीस दिन में उसने दो बार बेटी के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद शुक्रवार सुबह फिर दुष्कर्म करने की कोशिश की तो परिजनों ने हैवान पिता को पकड़कर लाठी डंडों से पीटकर पुलिस के हवाले कर दिया। थाने में उसकी हालत बिगड़ गई, जिस पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति ने पांच साल पहले फीरोजाबाद जनपद के सिरजागंज थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी विधवा से शादी की थी। महिला के तीन बेटी और एक बेटा था। इनमें एक बेटी 16, दूसरी 14 और तीसरी बेटी नौ साल की है। दो माह से पिता अपनी 14 साल सौतेली बेटी पर गलत नजर रखने लगा। करीब 20 दिन पहले घर पर कोई नहीं था। बेटी अकेली थी तो पिता ने दबोच लिया और दुष्कर्म किया। बेटी ने विरोध किया तो जान से मारने की धमकी दी। ऐसे में बेटी चुप रही। कुछ दिन बाद फिर रात में उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद सौतेली बेटी गुमसुम रहने लगी। एक हफ्ते पहले बेटी ने अपनी मां को आपबीती बताई। शुक्रवार सुबह महिला घर के बाहर गई थी। इस बीच बेटी अकेली थी। उसके ताऊ व चाचा कमरे में थे। आरोप है कि पिता ने दुष्कर्म करने की नीयत से बेटी को दबोच लिया। उसकी चीख सुनकर उसकी मां पहुंच गई। महिला ने अपने देवर व जेठ को बुला लिया। सभी ने आरोपित पिता को पकड़कर लाठी डंडों से पीट दिया। आसपास के लोगों ने भी आरोपित को पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस आरोपित पिता को गिरफ्तार कर थाने ले गई। वहां उसकी हालत बिगड़ गई। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। कार्यवाहक थाना प्रभारी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि पिता ने सौतेली बेटी के साथ दुष्कर्म किया है। आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है और पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस