चन्दौसी: सरकार स्वच्छता को लेकर सजग है, वहीं दुनिया को कोरोना वायरस से बचने के लिए भी स्वच्छता सावधानी का सबसे पहला उपाय है लेकिन नगर में गंदगी का आलम बना हुआ है। नोडल अधिकारियों व चेयरमैन ने सफाई कर्मचारियों को पूरे शहर में सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने को निर्देशित किया है। उसके बाद भी सड़कों पर गंदगी पसरी हुई है और जगह-जगह कूड़े के ढेर जमा है। जिससे संक्रमण खतरा बना हुआ है।

इस समय पूरा देश कोरोना वायरस जैसी महामारी से जूझ रहा है। महामारी से लोगों की सुरक्षा व बचाव को प्रदेश व केंद्र सरकार ने सभी नगर पालिकाओं को साफ-सफाई रखने के लिए निर्देशित कर रखा है। पालिकाध्यक्ष इंदुरानी भी बार-बार शहर में सफाई व्यवस्था बेहतर रखने पर जोर दे रही है, लेकिन इसके बाद भी हालत सुधरते हुए नजर नहीं आ रहे हैं। नगर के मयूर विहार आवास विकास स्थित अदालत के पीछे गंदगी के अंबार लगे हुए हैं, कालोनी वालों का कहना है कि आम दिनों में शहर की सफाई व्यवस्था की क्या स्थिति रहती है यह तो जग जाहिर है, लेकिन अभी कोरोना वायरस के बढ़ते खतरा के बावजूद यहां सफाई व्यवस्था लचर है। हालांकि शहर में नगर पालिका की ओर से जगह-जगह सैनिटाइज कराया जा रहा है। इसके अलावा आजाद रोड पर कई स्थानों पर गंदगी के अंबार लगे हुए है। आवास विकास में शिव मंदिर भी कुछ यही हाल है। मेला ग्राउंड के सामने भी कूड़े के ढ़ेर लगे हुए है। कई बार लोग सफाई कराने की मांग कर चुके है, लेकिन इसके बाद भी स्थित जस की तस बनी हुई। कागजी व मुहल्ला गोलागंज में भी कई स्थानों पर कूड़े के ढेर देखे जा सकते हैं। इनसेट-

आदेश के बाद भी नहीं सुधर रहे हालात:

चन्दौसी: शहर की साफ सफाई व्यवस्था को लेकर नोडल अधिकारी बीराम शास्त्री, सूर्यमणि लालचंद्र ने नगर में निरीक्षण के दौरान नगर में जगह-जगह गंदगी को देखकर एसडीएम व ईओ नगरपालिका को सफाई व्यवस्था दुरुस्त रखने के आदेश दिए थे। उसके बाद चेयरमैन ने भी बैठक करके सफाई नायकों को सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने को कहा था। उसके बाद भी नगर की सफाई व्यवस्था के हालात ठीक होने का नाम नहीं ले रहे हैं। नगर में गली मुहल्लों के साथ प्रमुख सड़कों व हॉटस्पॉट क्षेत्रों में जगह-जगह गंदगी के अंबार हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस