गुन्नौर : एक निजी चिकित्सालय में नवजात शिशु की मौत के बाद भड़के परिजनों ने अस्पताल परिसर पर जमकर हंगामा किया। परिजनों ने पुलिस को लिखित में तहरीर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच की। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर के आधार पर संबधित मामले में अभियोग पंजीकृत कर लिया। अब पुलिस ने शिशु के पोस्टमार्टम की इजाजत एसडीएम से मांगी है।

थाना धनारी क्षेत्र के गांव कल्हा निवासी ह्रदेश की पत्नी सीमा को प्रसव के दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुन्नौर ले जाया गया। जहां पर हालात नाजुक होने पर अस्पताल परिसर में कार्यरत कर्मचारियों ने उन्हें नजदीक के एक निजी चिकित्सक के यहां जाने की सलाह दी। आनन फानन में परिजन उन्हें निजी अस्पताल परिसर लेकर पहुंचे। जहां निजी चिकित्सालय में प्रसव के दौरान नवजात शिशु की मौत हो गयी। देर शाम अस्पताल संचालक के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर दिया गया। पुलिस ने नवजात शिशु के पोस्टमार्टम कराने के लिये उपजिलाधिकारी गुन्नौर से अनुमति मांगी है ताकि मौत की सही वजह मालूम हो सके। स्वास्थ्य विभाग पर पहुंच सकती है जांच की आंच : पीड़ित की तहरीर के आधार पर जांच स्वास्थ्य विभाग तक पहुंच सकती है। इसमें विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत की आंशका जतायी जा रही है। नवजात शिशु की मौत के बाद विभाग मूक दर्शक बना हुआ है। जांच के नाम पर विभाग की कोई टीम अस्पताल परिसर नहीं पहुंची। सूत्रों की माने तो गुन्नौर पर अवैध रूप से कई अस्पताल संचालित किये जा रहे हैं। नवजात शिशु के पोस्टमार्टम के लिये उपजिलाधिकारी गुन्नौर से अनुमति मांगी गयी है। अनुमति मिलते ही शव का पोस्टमार्टम कराया जायेगा।

अता मोहम्मद खां , कोतवाल गुन्नौर

Posted By: Jagran