जेएनएन, बहजोई: जिले के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने 66 नए उप स्वास्थ्य केंद्र खोले जाने के लिए स्वीकृति दी है, जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने अब तक 54 स्थानों को चिन्हित कर लिया है।

ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाली गर्भवती महिलाओं, बच्चों के साथ अन्य लोगों को बीमार होने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अथवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की ओर दौड़ लगानी पड़ती है, लेकिन अब गांव में ही उनको बेहतर उपचार मिल सके इसके लिए शासन ने जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 66 उप स्वास्थ्य केंद्र खोलने के निर्देश दिए हैं। उप स्वास्थ्य केंद्र खोले जाने के निर्देश मिलते ही स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया है। विभाग ने 66 में 54 स्थानों पर उप स्वास्थ्य केंद्र खोले जाने वाले स्थानों को चिन्हित कर लिया है। शेष बचे स्थानों को चिन्हित करने की प्रक्रिया चल रही है। जिला कार्यक्रम प्रबंधक संजीव राठौर ने बताया कि आगामी 15 अक्टूबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सभी उप स्वास्थ्य केंद्रों का आनलाइन शुभारंभ किया जाएगा। उप स्वास्थ्य केंद्रों पर मिलेंगी यह सुविधाएं

बहजोई : जिले में खुल रहे नए उप स्वास्थ्य केंद्रों पर तैनात एएनएम द्वारा गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की समय-समय पर जांच, टीकाकरण, डिलीवरी के अलावा बच्चों का नियमित टीकाकरण, कोविड टीकाकरण, संचारी रोग के रोगियों के लिए दवाएं उपलब्ध कराना तथा सरकार द्वारा चलाई जा रही स्वास्थ्य योजनाओं की जानकारी देकर उनका लाभ लेने के लिए जागरूक किया जाएगा। तीन साल का होगा एग्रीमेंट

बहजोई : ग्रामीण क्षेत्र में उप स्वास्थ्य केंद्र खोलने के लिए किराए पर भवन लिया जाएगा, जिसका एक माह का किराया तीन हजार रुपये निर्धारित किया गया है। भवन मालिक से तीन साल तक का लिखित में एग्रीमेंट किया जाएगा। इन ब्लाकों में खुलने हैं उप स्वास्थ्य केंद्र ब्लाक नाम उप स्वास्थ्य केंद्र संख्या बहजोई - दो असमोली- छह रजपुरा- 10 बनियाखेड़ा - 11 गुन्नौर - आठ जुनावई - छह पंवासा - 10 सम्भल - 13 शासन से जिले में 66 उप स्वास्थ्य केंद्र खोले जाने के लिए निर्देश मिल गए है। 15 अक्टूबर तक सभी स्वास्थ्य केंद्रों को तैयार किया जाना है, जिसकी प्रक्रिया जारी है। जिले में 54 स्थानों को भी चिन्हित कर लिया गया है।

डा. अजय कुमार सक्सेना, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जनपद सम्भल

Edited By: Jagran