सम्भल : जिले में पिछले 15 माह में 91 लोगों की हत्याएं की गई है। इन मामलों में पुलिस ने 154 अपराधियों को पकड़कर सलाखों के पीछे भेजा है। सबसे असुरक्षित गुन्नौर कोतवाली क्षेत्र है, जहां 18 लोगों की जान गई, जबकि दूसरे स्थान पर बहजोई और तीसरे स्थान पर हयातनगर है। यह खुलासा सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत अपर पुलिस कार्यालय से मिली जानकारी में हुआ है।

जर, जोरू और जमीन हत्या की मुख्य वजह हुआ करती है। अधिकतर हत्या के मामलों में यही वजह सामने आई है। वहीं कभी-कभार आवेश में आकर भी लोग हत्या जैसे जघन्य अपराध कर देते हैं। जिसका अपराधियों को बाद में पछतावा होता है। सम्भल जिला भी अपराध के मामले में पीछे नहीं है। खासतौर पर जिले में हुई हत्या की वारदातों ने अफसरों को हिला दिया। इसका खुलासा आरटीआइ के तहत मिली जानकारी में हुआ है। जिसके अनुसार वर्ष 2018 से मई 2019 तक पूरे जिले में हत्या की 91 वारदातें हुई हैं। इस मामले में सबसे आगे गुन्नौर क्षेत्र है। यहां पर 18 लोगों की हत्या हुई। सबसे शांत क्षेत्र सम्भल कोतवाली का है, यहां पर केवल दो मर्डर की वारदातें हुई है। पुलिस का दावा है कि अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़कर जेल भेजने का काम किया जा रहा है।

---------- थाना हत्याएं पकड़े गए अपराधी

सम्भल 02 07

कुढ़फत्तेगढ़ 03 03

असमोली 05 13

नखासा 06 11

चन्दौसी 09 05

हयातनगर 10 17

बहजोई 11 07

गुन्नौर 18 54

--------

इनसेट

कीरतपुर और अकबरपुर में सबसे ज्यादा हुए गोलीकांड

सम्भल : गुन्नौर कोतवाली इलाके के गांव कीरतपुर और अकबरपुर उन गांवों में शामिल है, जहां मामूली बातों पर गोली चल जाती है। इन गांवों में पिछले 30 वर्ष में जमीनी और पुरानी रंजिश में 30 से ज्यादा लोगों की हत्याएं हो चुकी है। इन गांवों की चर्चा जिले भर में होती है। पुलिस भी इन गांवों में होने वाले विवादों पर खास निगाहें रखती है।

--------

शादी करने से कतराने लगे थे लड़की वाले

सम्भल : गुन्नौर कोतवाली क्षेत्र के गांव अकबरपुर में आए दिन होने वाली हत्याओं के बाद एक दौर ऐसा भी आया कि सम्भल व आसपास के जिलों के लोग अपने बेटियों के शादी करने से कतराने लगे थे। बताया जाता है कि गांव में हुए खूनी खेल में अधिकतर घरों से किसी न किसी की जान गई है। बाद में पुलिस की सख्ती के बाद यह सिलसिला कम हुआ।

----------- क्या बोले अफसर

वारदातों को रोकने के लिए पुलिस लगातार काम कर रही है। पिछले 15 माह में जो हत्याएं हुई है। उन मामलों में 154 आरोपितों को पकड़कर जेल भेजा गया है। कई मामलों में जांच चल रही है। कार्यवाही की जा रही है।

आलोक कुमार जायसवाल, अपर पुलिस अधीक्षक सम्भल

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप