सहारनपुर, जागरण संवाददाता। सोने के मिलावटी आभूषणों को 24 कैरेट का बनाने के लिए फर्जी हालमार्क का सहारनपुर के लक्ष्मी बाजार में काफी समय से खेल चल रहा था, जिसका राजफाश दिल्ली से आई भारतीय मानक ब्यूरो की टीम ने छापामारी के दौरान किया। संबंधित दुकान को सील कर दिया गया है। वहां से मशीनों को जब्त कर लिया गया है। अब शहर के सर्राफा बाजार में स्थित लक्ष्मी बाजार के सोने के व्यापारियों में हड़कंप मचा हुआ है। 

कागजों में धंधा बंद करने पर भी करता रहा काम  

भारतीय मानक ब्यूरो ने सहारनपुर में सोने पर हालमार्क लगाने के लिए चार सेंटरों को अनुमति दी थी। इसमें एक अनुमति लक्ष्मी मार्केट में स्थित श्री महालक्ष्मी नाम की दुकान को भी दी गई थी। यह दुकान मोनू वर्मा की है। बाद में भारतीय मानक ब्यूरो ने तीन सेंटरों को बंद कर दिया था। दो माह तक रजत नाम के दुकानदार का सेंटर चल रहा था, लेकिन मोनू ने कागजों में यह धंधा बंद कर दिया था। असलियत में वह मिलावटी सोने पर हालमार्क लगाने का काम कर रहा था। 

उत्‍तराखंड और यूपी के कई जिलों से आते थे सर्राफ 

मोनू के पास देहरादून, हरिद्वार, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, मुरादाबाद, अलीगढ़, गाजियाबाद आदि शहरों के सर्राफ आते थे। मिलावटी सोने पर हालमार्क लगवाकर उसे 24 कैरेट का बनवा लेते थे। दो दिन पहले भारतीय मानक ब्यूरो की टीम को जानकारी मिली तो भारतीय मानक ब्यूरो के निदेशक विक्रांत और सहायक निदेशक मोहित कुमार अपनी टीम के साथ मोनू की दुकान पर पहुंचे और दुकान को सील कर दिया। उसकी मशीन, कंप्यूटर, दस्तावेज को जब्त कर लिया। इसके बाद टीम रजत की हालमार्क लगाने वाली दुकान पर भी पहुंची। रजत की दुकान में भी अनियमितता मिली। इसे टीम ने रजत की दुकान को भी सील कर दिया और लाइसेंस निरस्त कर दिया। 

सर्राफ के साथ-साथ ग्राहकों में भी खलबली

गुरुवार को मामला सुर्खियां बनने के बाद ग्राहकों में भी अब असंतोष है। उन्हें लग रहा है कि कहीं किसी सर्राफ ने उन्हें भी तो मिलावटी सोना नकली हालमार्क लगा हुआ तो नहीं दे दिया है। सोना व्यापारियों में भी भारतीय मानक ब्यूरो की टीम को लेकर हड़कंप मचा हुआ है। 

इनका कहना है... 

लक्ष्मी बाजार में स्थित श्रीमहालक्ष्मी नाम से हालमार्क लगाने वाली दुकान के सामान को जब्त कर लिया गया है। इसमें मशीन, कंप्यूटर आदि सामान हैं। दुकान को भी सील कर दिया है। मोनू वर्मा नाम का व्यक्ति अवैध तरीके से मिलावटी सोने पर हालमार्क लगाकर 24 कैरेट का बना रहा था। इस मामले में भारतीय मानक ब्यूरो की तरफ से मुकदमा भी दर्ज किया जाएगा। 

- मोहित कुमार, सहायक निदेशक, भारतीय मानक ब्यूरो। 

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट