सहारनपुर, जेएनएन। रविवार की देर शाम बेहट से सहारनपुर जा रहे बाइक सवार युवकों को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। हादसे में एक युवक की मौत हो गई, जबकि दूसरे को गंभीर हालत में अस्पताल भेजा गया है, जबकि दूसरी दुर्घटना में भी स्कूटी सवार की अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत हो गई।

सहारनपुर महानगर की पारसपुरम कालोनी निवासी अनुज पुत्र रामकिशोर व पेपर मिल रोड निवासी रवि पुत्र सोनू बेहट से वापस घर लौटते रहे थे। जैसे ही यह कलसिया में तिराहे पर पहुंचे तो किसी वाहन ने इनकी बाइक को टक्कर मार दी। दुर्घटना में अनुज की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि रवि गंभीर घायल हुआ। राहगीरों की सूचना पर पहुंची डायल-112 पुलिस ने घायल को अस्पताल भिजवाया। कोतवाली पुलिस मृतक के परिजनों को हादसे की सूचना देने बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए ले गई। इंस्पेक्टर किरनपाल सिंह ने बताया कि अभी तक तहरीर नहीं मिली है। जिस कारण दुर्घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं की सकी है। उधर, मिर्जापुर निवासी अरशद पुत्र असगर स्कूटी से कहीं जा रहे थे। गांव बाबैल के पास उन्हें भी किसी अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

चोरी हुई गाय बाग में घायल अवस्था में बंधी मिली

जागरण संवाददाता, बेहट : थाना मिर्जापुर क्षेत्र के गांव ताहरपुर में रविवार की रात एक घर के आंगन में बंधी दुधारू गाय को चोर ले गए। जैसे ही इसकी भनक आंगन में कुछ दूरी पर सोए गृह स्वामी को लगी तो उसने शोर मचा दिया और एक ग्रामीण के साथ उसे ढूंढने निकल गया। पास ही एक बाग में गोतस्करों ने गाय को बांधकर डाल रखा था। उन्हें देखकर वह गाय छोड़कर भाग खड़े हुए।

पुलिस को दी गई तहरीर में सोनू पुत्र बुद्ध सिंह का कहना है कि रोजाना की तरह उसके तीन मवेशी घर के आंगन में ही बंधे थे। उनसे कुछ दूरी पर ही परिवार के साथ वह भी सो रहा था। आधी रात के बाद उसकी नींद खुली तो देखा गाय नहीं थी। उसने शोर मचाया और गांव के ही रणधीर के साथ गाय ढूंढने निकल गया। पास के ही गांव महमूदपुर के कब्रिस्तान के पास आम के बाग में गाय बंधी हुई पड़ी मिली। इस बीच बाग का नौकर भी वहां आ गया। आरोप है कि उन्हें देखकर दो चोर भाग निकले, जिनमें से एक उन्हीं के गांव का पहचाना गया। सोनू का कहना है कि गाय को वाहन में लादकर ले जाने के लिए लाठी-डंडों से बुरी तरह पीट रखा था।

Edited By: Jagran