v>सहारनपुर (जेएनएन)। उसकी शादी का सारा सामान खरीदा जा चुका था। बारात भी पहुंच चुकी थी लेकिन शादी से चंद घंटे पहले युवती ने प्रेमी के साथ ट्रेन से कटकर जान दे दी। उन दोनों के शव पटरी पर पड़े मिले। इसके बाद चीख पुकार मची। बराती और जनाती कानाफूसी में मशगूल दिखे। सूचना पर पुलिस पहुंची और आगे की कार्रवाई शुरू की।

 
कोतवाली रामपुर मनिहारान के गांव मल्हीपुर निवासी पाल्ला की बेटी पारुल (19) तथा रामकुमार के बेटे सागर (21) के बीच कई माह से प्रेम प्रसंग चल रहा था। पाल्ला बेटी की इस हरकत से परेशान था, इसलिए वह पारुल को लेकर बेहट में अपनी साली के यहां रहता था। तीन दिन पहले पारुल बेहट से भागकर अपने प्रेमी सागर के पास आ गई थी। पता चला तो पाल्ला मल्हीपुर पहुंचा। प्रधान सोमप्रकाश की मदद से बेटी को वापस ले गया। इसके बाद आनन-फानन में पाल्ला ने बेटी का रिश्ता थाना फतेहपुर के गांव शेरपुर के युवक से तय कर दिया था। मंगलवार को बेहट में पारुल की बरात आनी थी, लेकिन सोमवार रात अचानक परिवार के सदस्यों को सोता छोड़कर पारुल सागर के साथ भाग गई। सुबह आंख खुली तो पाल्ला मल्हीपुर पहुंचा और बेटी की तलाश कर ही रहा था कि पता चला कि मानकपुर-टपरी रेल मार्ग पर पारुल व सागर की लाश पड़ी है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।  मंगलवार की दोपहर सहारनपुर के बेहट में बरात पहुंच गई। घटना का पता चलने पर बराती माल्हीपुर भी पहुंचे। पाल्ला बिलखकर बोला, सोमवार को शादी का सामान खरीदा था, मगर पारुल ने सब कुछ बर्बाद कर दिया। 
 

By Nawal Mishra