बेहट (सहारनपुर): दिल्ली से सहारनपुर तक हाईवे निर्माण की सरकारी घोषणा से निराश क्षेत्रवासियों को मां शाकंभरी देवी तक हाईवे निर्माण की घोषणा से बड़ी आस जगी है। हालांकि, अभी बादशाही बाग तक के लोग निराशा में ही हैं।

बसपा सरकार में सहारनपुर से दर्रारिट तक हाईवे निर्माण की घोषणा से क्षेत्रवासियों में उम्मीद जागी थी लेकिन हाईवे निर्माण शुरू होने के बावजूद लोगों ने यहां गड्ढों से गुजरकर सफर किया। भाजपा सरकार ने इसे राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किया, पर इसकी दूरी दिल्ली से सहारनपुर तक ही सीमित कर देने से सहारनपुर से बादशाहीबाग तक के लोगों को घोर निराशा हुई थी।

इसी बीच सांसद राघव लखनपाल शर्मा ने सिद्धपीठ शाकंभरी देवी तक फोरलेन सड़क निर्माण की मांग उठाई गई थी। इसी क्रम में मंगलवार को केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने हाइवे शिलान्यास के समय शाकंभरी सिद्धपीठ तक इस हाईवे को बढ़ाने की घोषणा कर दी।

हाईवे निर्माण से सिद्धपीठ पर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को सहूलियत होगी। अतिक्रमण से भी निजात मिलेगी। वैसे भी इस सिद्धपीठ से भाजपा कई बार अपने चुनाव प्रचार का श्रीगणेश भी कर चुकी है। हालांकि बेहट से दर्रारिट तक के मार्ग के भविष्य पर अभी भी संशय के बादल हैं।

Posted By: Jagran