बेहट (सहारनपुर): मंगलवार की रात कस्बे के युवक मोहम्मद शाहिब के नामजद तीनों हत्यारोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने घटना स्थल के पास ही छुरी भी बरामद की है। पूछताछ में इस कांड के मास्टरमाइंड बताए जा रहे वाजिद उर्फ बल्ला ने एक लड़की से अवैध संबंध के कारण समाज में बेइज्जती का बदला लेने की बात का इकबाल किया है।

गौरतलब है कि कस्बे के मोहल्ला गाड़ान निवासी मोहम्मद शाहिब पुत्र इरशाद की मंगलवार की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने बुधवार की सुबह उसका शव कस्बे के निकट कादरपुर गांव में शाह मुनीर के बाग में ट्यूबवेल के हौज से बरामद किया था। परिजनों ने मोहल्ले के ही वाजिद उर्फ बल्ला पुत्र फजलु, शाहबाज पुत्र अली हसन व छोटू उर्फ जाकिर पुत्र जहूर को नामजद करते हुये मुकदमा दर्ज कराया था, जिसमें हत्या की रंजिश मोहल्ले की ही लड़की से अवैध संबंध होना बताया था। सीओ कौशलेन्द्र ¨सह ने कोतवाली में पत्रकारवार्ता के दौरान बताया कि मुखबिर की सूचना पर एसओ महेन्द्रपाल ¨सह, एसएसआई सुशील सैनी, कांस्टेबल संदीप कुमार व पंकज कुमार ने तीनों को गांव उसंड के तिराहे से गिरफ्तार कर लिया है, जिनकी निशानदेही पर पुलिस ने दो छुरी भी बरामद की है। सीओ ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की गयी तो वाजिद ने बताया कि एक लड़की से अवैध संबंध के चलते उन्होंने शाहिब को मारने की योजना बनायी थी। प्लान के तहत उसे सर्कस देखने की बात कहकर बुलाया गया और शाहबाज व छोटू भी वहीं मिले। इसके बाद चारों शराब लेकर शाह मुनीर के बाग में गये और शाहिब को शराब पीलाकर उसकी हत्या कर दी और शव को वहीं ट्यूबवेल के हौज में डाल दिया।

हाईवे पर जाम लगाने का प्रयास पुलिस ने किया विफल

बेहट : मृतक मोहम्मद शाहिब का शव शाम करीब 4 बजे पोस्टमार्टम के बाद कस्बे में जैसे ही पहुंचा तो आक्रोशित भीड़ ने एंबुलेंस को हाइवे पर ही बीचोबीच रोक कर जाम लगाने का प्रयास किया। लोगों का कहना था कि पुलिस अभी तक इस हत्याकांड के बाद की गयी कार्यवाही के बारे में नहीं बता रही है। भीड़ ने वहां से गुजर रहे सीओ के वाहन को रोक लिया। सूचना पर एसओ व एसएसआई मयफोर्स के मौके पर पहुंचे और भीड़ को समझा बुझाकर हटाया। जबकि कुछ युवकों को पुलिस ने लाठी लेकर दौड़ाया भी। जिसके चलते जाम नहीं लगा। उधर, परिजनों ने पुलिस को यह भी शिकायत की कि चूंकि आरोपी पक्ष मोहल्ले का ही रहने वाला है, जो बार-बार उन्हें गलत फंसाने की बात कहकर धमकी दे रहा है। शिकायत पर एसओ ने पीड़ित परिवार को पुलिस की सुरक्षा मुहैया करा दी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप