सहारनपुर: विश्व पृथ्वी दिवस पर विभिन्न स्कूलों में चित्रकला प्रतियोगिता व अन्य आयोजन किये गए। वक्ताओं ने कहा कि पृथ्वी को बचाने के लिए हमें वृक्षों के कटान को रोकना होगा। इसके लिए सभी को मिलकर प्रयास करने होंगे।

विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर नालंदा व‌र्ल्ड स्कूल के विद्यार्थियों ने पौधरोपण कर पर्यावरण से संबंधित विभिन्न कलाकृतियों को बनाकर पृथ्वी को सुरक्षित रखने का संदेश दिया। स्कूल के चेयरमैन सुभाष चौधरी ने कहा कि दुनियाभर में पर्यावरण संरक्षण के समर्थन को दर्शाने के लिए 22 अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस का आयोजन किया जाता है। इस दिवस की शुरुआत वर्ष 1970 में की गई। इस मौके पर विद्यार्थियों को पर्यावरण संरक्षण के लिए शपथ भी दिलाई गई तथा एक-एक पौधा घर रोपने के लिए दिया गया। स्कूल के मैनेजिग डायरेक्टर मयंक चौधरी, डायरेक्टर डैनी सक्सेना, प्रधानाचार्या रूचि गुप्ता, शिप्रा सहगल, पंकज शर्मा, विवेक चौरसिया, पलव्वी शर्मा, राशि चांदना, दीप्ति कोहली, सोनाली मित्तल, रूचिका मित्तल, बिदू सचदेवा, नेहा जेटली, करणजीत कौर, पूजा तोमर, स्वाति सैनी, अमित कुमार, वर्णिका अग्रवाल आदि मौजूद रहे।

मिशन कंपाउंड स्थित ब्लू बैल्स स्कूल में अर्थ डे एवं विश्व पुस्तक दिवस का आयोजन किया गया। चित्रकला प्रतियोगिता में विनायक यादव, फातिमा खान, अनाया, आलिजा, अराध्य मुदगल, अदनान, मनन गर्ग, आयरा, हालिमा, तनिष्का, जतिन, विवान ने अपनी माताओं के साथ भाग लिया। चित्रकला के माध्यम से लोगों को पृथ्वी को स्वच्छ रखने एवं पर्यावरण के प्रति जागरुक रहने का संदेश दिया गया। विश्व पुस्तक दिवस के उपलक्ष्य में अध्यापकगण और छात्रों ने कार्टून चरित्र की तरह तैयार होकर उनकी कहानियों को जीवंत रूप दिया। प्रधानाचार्य प्रज्ञा मलिक ने बताया कि पृथ्वी को सुंदर व हरा भरा बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी ही नहीं कर्तव्य भी है। मुख्य अतिथि महिला थाना प्रभारी सरिता सिंह ने बच्चों के प्रयास की सराहना की।

हारईजन एकेडमी ने विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्कूल के चेयरमैन इंजीनियर फसीउज्जा ने पृथ्वी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हमारा संपूर्ण जीवन पृथ्वी के चारों ओर घूमता है। पृथ्वी से ही समस्त वस्तुएं प्राप्त होती हैं। प्रधानाचार्य जिया अहमद अंसारी ने भी विचार रखे। कक्षा छह के छात्र मो मोअज्जम ने धरती बचाओ जीवन बचाओ, जीवन को खुशहाल बनाओ के नारे के माध्यम से छात्र-छात्राओं को इसकी महत्ता के प्रति जागरुक किया। इंजीनियर आसिम जमां शेहला, सलमा प्रवीन, जेबा, हीना जैदी, आईशा, खुर्रत, नगमा, तबस्सुम, सदफ, सोएमा, शीबा, जावेद आदि रहे। संचालन आसिम जमाल ने किया।

ओशन व्यू एकेडमी में भी पृथ्वी दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर चित्रकला प्रतियोगिता में नमराह ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। प्रतियेागिता में नमराह, नर्गिस, सेम, अलीबा,इनशा आदि रहे हिस्सा लिया। संस्थापक अफनान अहमद व स्टाफ मौजूद रहा।

Posted By: Jagran