सहारनपुर, जेएनएन। बेहट रोड स्थित गांव घुन्ना में बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा तोड़े जाने के बाद लोगों में आक्रोश में फैल गया और समाज के लोग सड़क पर आ गए। घंटों हंगामा होता रहा और लोगों ने जगह-जगह जाम लगाकर विरोध किया। पुलिस के समझाए जाने पर समाज के लोग नहीं माने। पता लगा तो कई थानों का फोर्स व पीएसी लेकर आला अफसर मौके पहुंचे जहां पुलिस द्वारा लोगों की वीडियो बनाने को लेकर खासा हंगामा हो गया। पीएसी बुलाई तो अनुसूचीत समाज के लोगों ने सड़क पर तोड़फोड़ करने की कोशिश की तो तुरंत फोर्स को पीछे कर दिया गया।

पुलिस के प्रयास भी रहे विफल
कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव घुन्ना में मंगलवार सुबह बाबा अंबेडकर की प्रतिमा को तोड़ दिया गया। जंगल में आग की तरह फैली इस खबर की सूचना पर सैकड़ों लोग जगह-जगह एकत्रित हो गए। एसपी सिटी सीओ व कई थानों का फोर्स गांव घुन्ना पहुंचे तो लोग को समझाने का प्रयास किया लेकिन कोई भी समझने को तैयार नहीं था, तभी सूचना मिलेगी अनुसूचित समाज के लोगों ने गांव नाजिर पुरा में भी जाम लगा दिया। कुछ कुछ फोर्स को नजीरपुरा भेजा गया। समाचार लिखे जाने तक पुलिस के साथ समाज के लोगों की नोकझोंक थी।

श्रधालुओं पर पथराव
गांव घुन्ना से निकल रहे श्रधालुओं पर अनुसूचित समाज के लोगों ने पथराव किया। इसके बाद वहां पर भगदड़ मच गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को तीतर बितर किया तो जाम खुल गया। मौके पर हालात तनावपूर्ण है। श्रधालुओं शाकंभरी देवी जा रहे थे।

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस