सहारनपुर, जेएनएन। गंगोह नगर के राम बाग परिसर स्थित शिव मंदिर में लगातार श्रद्धालु बढ़ते जा रहे हैं। सैकड़ों साल पुराने इस शिवालय से लोगों की श्रद्धा में इजाफा हो रहा है। पूरे सावन माह यहां श्रद्धालु अपनी मनोकामना पूरी करने आते हैं। इसलिए यहां दूर-दूर से श्रद्धालु हर साल आते हैं।

इतिहास

राम बाग स्वर्गाश्रम स्थित मंदिर का निर्माण सैकड़ों वर्ष पूर्व कराया गया था। मंदिर की ख्याति धीरे-धीरे बढ़ रही है और श्रद्धालुओं की संख्या भी बढ़ रही है। श्रावण मास में यहां पूजा अर्चना चलती रहती हैं। शिव चर्तुदशी पर भी यहां जल चढ़ाने वालों का तांता लग जाता है। श्रद्धालु लोग पहले पूरे सावन मास यहीं प्रवास कर पूजा-अर्चना करते थे। लेकिन अब समय बदल गया है। खासियत

सावन माह में श्रद्धालुओं को जल चढ़ाने में परेशानी न हो इसका व्यवस्था प्रबंधक कमेटी करती है। शिव चर्तुदशी पर्व पर मंदिर को सजाया जाता है। कांवडि़यों के लिए विशेष व्यवस्था की जाती है। सावन मास की पूर्णिमा को यहां यज्ञ के साथ कार्यक्रम का समापन किया जाता हे।

---

मंदिर के पुजारी प्रिय धर पुरोहित का कहना है कि शिव के द्वार पर आने वाला कोई भी श्रद्धालु खाली नहीं जाता। मंदिर में श्रद्धालु लगातार बढ़ रहे हैं। सच्चे मन से प्रार्थना करने वालों की मुराद शिव अवश्य पूरी करते है।

-प्रिय धर पुरोहित, पुजारी।

---

शिव मंदिर आस्था का समंदर है। भगवान शिव उनके दर्शन करने वाले हर भक्त की इच्छा पूरी करते हैं। वह बचपन से ही शिव के इस दरबार में माथा टेकते आ रहे हैं।

-राकेश सिंघल, श्रद्धालु

Edited By: Jagran