सहारनपुर, जेएनएन। राजकीय मेडिकल कालेज हमेशा सुर्खियों में रहता है। कभी सफाई नहीं मिलने के कारण तो कभी चिकित्सकों द्वारा ड्यूटी नहीं करने के कारण। जब से नए प्राचार्य डा. अरविद त्रिवेदी आए है, तब से यह कालेज कुछ ज्यादा ही सुर्खियों में चला आ रहा है। हैरत की बात तो यह है कि यहां के चिकित्सक अपनी ड्यूटी से गायब रहते हैं और प्राचार्य उनके खिलाफ एक्शन नहीं लेते हैं। बुधवार को जब मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार निरीक्षण पर पहुंचे तब भी ऐसा ही मिला। अब उन्होंने गैरहाजिर चिकित्सकों का एक दिन का वेतन काटने के आदेश दिए है।

दरअसल, कुछ दिन पहले जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने राजकीय मेडिकल कालेज पिलखनी का अचानक निरीक्षण किया था। उस दौरान यहां पर साफ सफाई नहीं मिली थी। जिसके बाद जिलाधिकारी ने सफाई कर्मचारियों को बुलाने के आदेश दिए। पता चला कि एक भी सफाई कर्मचारी अपनी ड्यूटी पर नहीं है। उस दिन भी जिलाधिकारी ने सभी सफाई कर्मचारियों का एक दिन का वेतन काटने के आदेश दिए थे। बुधवार को एडीएम विजय कुमार अचानक निरीक्षण पर पहुंच गए। कई ओपीडी में मरीज कतार में थे, लेकिन डाक्टर ओपीडी से गायब थे। जिसके बाद एडीएम का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। प्राचार्य से इस संबंध में जानकारी ली गई तो वह कुछ भी जानकारी नहीं दे पाए। एडीएम ने आदेश दिया कि सभी गैर हाजिर डाक्टर और स्टाफ का एक दिन का वेतन काटा जाए। एडीएम विजय कुमार ने बताया कि कई डाक्टर और स्टाफ के लोग गैरहाजिर मिले हैं। जिनका वेतन काटने के साथ साथ विभागीय कार्रवाई भी की जा रही है।

Edited By: Jagran