सहारनपुर, जेएनएन। पठेड़ में आयुष राज्य मंत्री डॉक्टर धर्म सिंह सैनी व जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडेय ने गांव रावणपुर बुजुर्ग में बरसात के मौसम में गागरो नदी की बाढ़ से हुए नुकसान व बंद पड़े निकासी नालों का निरीक्षण किया। विभाग से संबंधित अधिकारियों को नालों की सफाई करने के दिशा निर्देश दिए। आयुष मंत्री ने शुक्रवार को भी गागरो नदी की बाढ़ से पीड़ित रावणपुर बुजुर्ग दौलतपुर रावणपुर खुर्द का दौरा कर किसानों का हालचाल जाना था।

शनिवार को फिर आयुष मंत्री डॉक्टर धर्म सिंह सैनी व जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडेय एसडीएम सदर अनिल कुमार कई विभाग के अधिकारियों को साथ लेकर गांव रावण पुर बुजुर्ग पहुंचकर पीड़ित किसानों की समस्याएं सुनी व मौके पर पहुंचकर खेतों में बंद पड़े सिचाई के नालों का जायजा लिया। ग्राम प्रधान रामकुमार सैनी ने बताया कि 2013 में आई भयंकर बाढ़ में क्षेत्र के आधा दर्जन से अधिक निकासी नालों में रेत भर गई थी, जिस कारण खेतों में भरे पानी की निकासी नहीं हो सकी। इस कारण आधा दर्जन गांवों की लगभग 5 हजार बीघा जमीन सात सालों से बंजर पड़ी हुई है। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों को बताया कि उनके क्षेत्र के छह नालों की सफाई कराई जाएगी। उन्होंने बताया की गागरो नदी नथमलपुर के नालों व दौलतपुर के नालों की सफाई भूमि संरक्षण विभाग द्वारा कराई जाएगी। धोलाहेडी में मस्करा नदी पर पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा एक नया पुल बनाया जाएगा। जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी नालों की सफाई का कार्य अधिकतम एक माह में पूरा कराया जाए तथा पुल के निर्माण के लिए आवश्यक मंजूरी लेकर निर्माण शुरू किया जाए । जिलाधिकारी ने गांव दौलतपुर में पड़ने वाली निकासी की पुलिया को भी ग्रामीणों को दोबारा बनवाने का आश्वासन दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस