सहारनपुर, जेएनएन। अंबेहटा नगर में खाद्य विभाग की द्वारा विशेष अभियान चलाया। नगर में खाद्य विभाग की टीम पहुंचते ही दुकानदारों में हड़कंप मच गया। गुरुवार को खाद्य विभाग अधिकारी महावीर प्रेमी के नेतृत्व मे टीम ने मोबाइल लैब के माध्यम से डोर टू डोर संपर्क कर खाद्य पदार्थो की गुणवत्ता की जांच की तथा लोगों को इसके प्रति जागरूक भी किया। इस दौरान टीम ने तेल, घेवर, दाल, दूध आदि के सैंपल लेकर उनकी गुणवत्ता परखी। जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी महावीर सिंह प्रेमी ने बताया कि करीब 50 सैम्पल चैक कर लोगों को जागरूक किया गया है। उन्होंने ने बताया कि रामपुर रोड स्थित मधुसूदन डेरी के स्वामी हाजी इमरान अहमद व सलमान अहमद की दुकान पर दूध व अन्य दूध से बने खाद्य पदार्थ मानको में सही पाए गए। महावीर सिंह प्रेमी के अलावा मेरठ के लैब टेक्नीशियन आनंद श्रीवास्तव, वरुण कुमार, राहुल शुक्ला, गौरव कुमार शामिल रहे।

चार दिन से अंधेरे में डूबा अब्दायलपुर गांव

जड़ौदापांडा: ट्रांसफार्मर फुंक जाने से क्षेत्र के गांव अब्दायलपुर में चार दिनों से अंधेरा छाया हुआ है, जिसके चलते ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग से गांव में नया ट्रांसफार्मर रखवाने की मांग की है।

आकाशीय बिजली गिरने से थाना क्षेत्र के गांव अब्दायलपुर का चार दिन पूर्व बिजली का ट्रांसफार्मर फुंक गया था। जिससे पिछले चार दिनों से पूरा गाव अंधेरे में डूबा है। इससे परेशान ग्रामीण अमित, सोनू शर्मा, प्रवेश कुमार, फुरकान अली, मुकेश शर्मा, राजपाल धीमान, मामराज आदि ग्रामीणों का कहना है कि विद्युत विभाग की लापरवाही व उदासीनता के कारण अभी तक गांव में नया ट्रांसफार्मर नहीं रखा गया है, जिसके चलते ग्रामीण अंधेरे में रहने का मजबूर हैं।

ग्रामीण विद्युत विभाग के चार दिन से लगातार चक्कर काट रहे हैं, लेकिन विद्युत विभाग के अधिकारियों सुनवाई नहीं कर रहे। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग से गांव में नया ट्रांसफार्मर रखवाने की मांग की है। इस मामले में जेई विष्णु कठोरिया का कहना है कि ट्रांसफार्मर फुंकने का गुरुवार को ही पता चला है जल्द ही रिपोर्ट तैयार कर उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी।

Edited By: Jagran