सहारनपुर, जेएनएन। चार दिन पहले नकुड़ में दिन-दहाड़े हुई ममता की हत्या के मामले में पुलिस ने उसके पति रिटायर फौजी सतीश तथा मौसी व मौसी की विवाहित बेटी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि सतीश के अपनी साली से अवैध संबंध हैं और दोनों शादी करना चाहते थे। इसलिए ममता की हत्या कर घटना को लूटपाट का रूप दिया गया। तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

रिजर्व पुलिस लाइन में पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि बीती 28 अगस्त को नकुड़ के सरस्वती नगर में रिटायर फौजी सतीश कुमार की पत्नी ममता की हत्या कर दी गई थी। ममता के कान के कुंडल व पैर की पाजेब भी गायब थी। लूट व हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की तो सीसीटीवी फुटेज हाथ लग गई, जिसमें दो महिलाएं नजर आ रही है। इसी लाइन पर जांच शुरू हुई तो दोनों महिलाएं ममता की रिश्तेदार निकली। ममता की मौसी कुसुम पत्नी देशपाल तथा उसकी विवाहित बेटी मोनिक निवासीगण मोहबावाला थाना पटेलनगर देहरादून को पकड़ा गया। हिरासत में लेकर पूछताछ की तो दोनों ने वाइपर से ममता के सिर पर चोट मारने के बाद गला दबा कर हत्या करना स्वीकार कर लिया। बताया कि मोनिका का अपने पति से तलाक का वाद कोर्ट में चल रहा है, और उसके व सतीश के बीच अवैध संबंध हैं। सतीश अब मोनिका के साथ रहना चाहता था, इसलिए योजना बनाकर मोनिका व कुसुम से ममता की हत्या करवा दी। तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

मोनिका का पति से चल रहा तलाक का वाद

मोनिका की शादी करीब दस साल पहले हरिद्वार के युवक से हुई थी। इस दौरान मोनिका दो बच्चों की मां बनी लेकिन पति से संबंध अच्छे नहीं थे। इसलिए पिछले कुछ वक्त से दोनों के बीच तलाक का वाद कोर्ट में चल रहा है। इंस्पेक्टर ने बताया कि सतीश व मोनिका के बीच संबंध हो गए थे इसलिए अब आगे की जिदगी दोनों साथ रहना चाहते थे।

सतीश व ममता की शादी को हो गए 17 साल

सतीश व ममता की शादी को 17 साल हो गए थे। दो महीने पहले रिटायर होकर लौटे सतीश ने पूरी प्लानिग से पत्नी ममता की हत्या करवा दी। 27 अगस्त को कुसुम व मोनिका को दूर से घर दिखा दिया था ताकि दिक्कत न हो। 28 अगस्त को सुबह ही छोटे बेटे व पिता को लेकर सरसावा एयरफोर्स अस्पताल व कैंटीन चला गया और इधर मोनिका अपनी मां कुसुम के साथ पहुंची और ममता की हत्या कर लौट गई। जाने से पहले ममता के कान से कुंडल व पैर से पाजेब निकाल लिए ताकि घटना लूटपाट की लगे। यह दोनों ही आभूषण जाते हुए नदी में फेंक दिए थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस