जेएनएन, सहारनपुर। पतंजलि योग समिति यमुना नगर सदस्य के द्वारा मोरा गांव में तीन दिन से लगातार ग्रामीणों को प्राणायाम एव आसन कराए जा रहे हैं। योग कर शरीर को स्वास्थ्य रखने की ग्रामीणों को सलाह दी जा रही है।

थाना क्षेत्र के गांव मोरा में यमुना नगर से आए पतंजलि योग समिति के पूर्व प्रधान महेंद्र सिह तीन दिन से लगातार ग्रामीणों को दैनिक जीवन में योग का महत्व बताते हुए प्रणायाम एवं आसन करा रहे हैं। प्राणायम व आशन कराने के उपरांत ग्रामीणों को गिलोय व गोवर्ग का सेवने कराते हैं। इस दौरान महेन्द्र सिंह ने कहा कि मनुष्य को प्रतिदिन सुबह योग करना चाहिए। मनुष्य के योग करने से शरीर में फैली अनेक बीमारियों का सर्वनाश हो जाता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योग जरूरी है। स्वस्थ शरीर में ही सद्विचारो का संचार होता है। कोरोना काल में योग के महत्व को समझा है।

नशा युवा को बर्बादी की और ले जाता है :डा. तुलसी भारद्वाज

जड़ौदापांडा: कृषि वैज्ञानिक डा. तुलसी भारद्वाज ने कहा कि नशा युवा को बर्बादी की ओर ले जाता है। युवा देश का भविष्य है, इसलिए युवाओं को नशे की लत से दूर रहना चाहिए। नशा युवाओं की मानसिक शक्ति व शरीर को खोखला बना देता हैं। नशा करने वाले व्यक्ति को समाज गलत नजरों से देखता है। नशा करने वाले युवाओं के परिवार का संतुलन बिगड जाता है। नशा करने वाले युवा के शरीर में अनेक बीमारियां जन्म ले लेती है। नशा करने वाले युवाओं का मस्तिष्क काम करना बंद कर देता है। समाज व घर में संतुलन बनाए रखने के लिए नशे की लत से युवाओं को दूर रहना चाहिए। युवाओं को नशे की ओर ध्यान न देकर अपनी पढाई पर ध्यान देना चाहिए।

Edited By: Jagran