सहारनपुर जेएनएन। डीआइजी उपेंद्र कुमार अग्रवाल ने कहा कि यातायात के नियमों के पालन को स्व: अनुशासन बेहद जरूरी है। भले और बुरे के अंतर को समझने पर ही व्यक्ति कानून का पालन करेगा। इस मौके पर उन्होंने छात्र-छात्राओं की विभिन्न जिज्ञासाओं का मौके पर समाधान किया।

बुधवार को जनता रोड स्थित स्कूल में यातायात पुलिस द्वारा चलाए जा रहे जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ डीआइजी उपेंद्र कुमार अग्रवाल, एसपी सिटी विनीत भटनागर, एसपी ट्रैफिक अपर्णा गुप्ता, प्रोग्रेसिव स्कूल सोसायटी के संयोजक सुरेंद्र चौहान, स्कूल के निदेशक भव्य जैन, यातायात प्रभारी पवन सिंह तोमर व प्रधानाचार्य सीमा सिंह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। डीआइजी ने कहा कि केवल संस्कारों के बल पर ही अपराधों पर अंकुश लगाया जा सकता है, जिम्मेदारी समझने से ही व्यक्ति कानून का पालन करेगा, जब व्यक्ति स्व: अनुशासित होगा तभी व्यक्ति अपना भला-बुरा समझेगा और कानून का पालन करेगा। उन्होंने स्कूली बच्चों से विभिन्न सवाल पूछकर उनकी जिज्ञासाओं का भी समाधान किया। एसपी सिटी विनीत भटनागर ने कहा कि यातायात नियमों का पालन न करने से सड़क दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं। यातायात का नियमों का पालन करके ही सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सकता है।

एसपी ट्रैफिक अपर्णा गुप्ता ने कहा कि बच्चों को अपने अभिभावकों के साथ ही घर के आसपास के लोगों को भी यातायात के नियमों के पालन के लिए जागरूक करना चाहिए। ड्राइविग लाइसेंस बनने से पहले वाहन न चलाएं। उन्होंने छात्राओं को यूपी डायल-100, 1092 महिला हेल्पलाइन आदि की जानकारी दी। कार्यक्रम को प्रोग्रेसिव स्कूल सोसायटी के संयोजक सुरेन्द्र चौहान, यातायात प्रभारी पवन सिंह तोमर एवं प्रधानाचार्य सीमा सिंह ने भी संबोधित किया। स्कूल के निदेशक भव्य जैन ने अतिथियों का आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन उपासना भट्टाचार्य ने किया। इस दौरान उप प्रधानाचार्या शशि शर्मा, रेशु बढेरा, अमित चौधरी, सतीश, शिवम आदि के अलावा शिक्षक व छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस