सहारनपुर, जेएनएन। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए अब लाकडाउन 10 मई तक बढ़ा दिया गया है। पिछले तीन दिनों से लाकडाउन में लापरवाही दिख रही थी। हालांकि गुरुवार को जरूरत की सामान की दुकानों के खोलने का समय दोपहर के दो बजे तक कर दिया गया था, जबकि बाकी दिनों में यह समय एक बजे तक रहा है। समय बढ़ने के कारण बाजारों में खुब दुकानें खुली। जब तक राशन, दूध, सब्जी, ब्रेड आदि की दुकानें खुली रही, तब तक तो सड़कों पर भीड़ दिखी, लेकिन बाद में सन्नाटा छा गया। सड़कों पर भी भीड़ कम दिखाई दी। जहां पर लापरवाही हो रही थी। वहां पर खुद एसएसपी डा. एस चन्न्पा ने पहुंचकर पुलिस को सख्ती करने के आदेश दिए।

मोरगंज का खुला रहा पूरा बाजार

शहर का मोरगंज का बाजार सबसे पुराना और अधिक भीड़ वाला बाजार है। यहां पर अधिकतर थोक की दुकानें हैं। यहां पर राशन से संबंधित सभी दुकानें खुलने के कारण दो बजे तक बाजार में भीड़ रही। यहां पर गांव देहात से छोटे दुकानदार सामान खरीदने के लिए आते हैं, जिस कारण यहां पर लापरवाही भी देखी गई। इस बाजार में बाहर से आने वाले लोग तो बिना मास्क थे और शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे थे। साथ ही दुकानदार भी लापरवाही बरतते हुए नजर आए। रोडवेज बस स्टैंड पर बड़ी लापरवाही

रोडवेज के आरएम नीरज सक्सेना भले ही सख्त होने का ढोल पीट रहे हो, लेकिन रोडवेज बस स्टैंड पर लगातार लापरवाही हो रही है। बसों में 100 फीसद सवारियों को भरा जा रहा है, जबकि नियम है कि 30 फीसद ही सवारियों को बसों में बैठाया जाए। सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाए। बिना मास्क के कोई भी बस में न बैठे। यह सब नियम आरएम के होते हुए भी फेल हो रहे हैं। फल विक्रेता बढ़ा न दें और संक्रमण की चेन

रोडवेज बस स्टैंड पर फल विक्रेता सुबह से लेकर देर शाम तक फल बेच रहे हैं। इसी तरह से गली मोहल्लों में भी फल, सब्जी रेहेड़े, रिक्शा पर बेचे जा रहे हैं, लेकिन यह लोग बिना मास्क के फल बेच रहे हैं। इन पर सख्ती नहीं की जा रही है। इन्होने कहा..

लाकडाउन का सख्ती के साथ पालन कराया जा रहा है। लापरवाही करने वाले पर कार्रवाई की जाएगी। फल और सब्जी बेचने वाले यदि लापरवाही कर रहे हैं तो इन पर भी कार्रवाई की जाएगी। शुक्रवार से फल और सब्जी वालों का चेकिग अभियान चलाया जाएगा।

-डा. एस चन्नपा, एसएसपी।