सहारनपुर, जेएनएन। जनपद को तंबाकू मुक्त बनाने के लिए जनपद के समस्त स्कूलों को तंबाकू एवं नशा मुक्त करने के लिए शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया गया।

जिला तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ के नोडल अधिकारी ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह द्वारा स्कूलों के सभी छात्र-छात्राओं को तंबाकू एवं नशीले पदार्थों से होने वाले दुष्प्रभावों के प्रति जागरूक किया जा रहा है। केंद्र सरकार की ओर से पिछले महीने ग्लोबल यूथ टोबैको सर्वे रिपोर्ट जारी किया गया है। जिसमें कई राज्यों के बच्चों के तंबाकू के सेवन की बात सामने आयी है, यानि यह बच्चे किसी न किसी रूप में तंबाकू का सेवन करते हैं, और तंबाकू सेवन करने वाले इन बच्चों की उम्र 13 साल से कम बतायी जा रही है। जिलाधिकारी के आदेशानुसार नशा मुक्त भारत अभियान के अन्तर्गत जनपद को तंबाकू मुक्त बनाने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक एवं बेसिक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से समस्त स्कूलों के प्रधानाचार्य को अपने-अपने स्कूलों को तंबाकू एवं नशा मुक्त करने हेतु शपथ ग्रहण समारोह के आयोजन के लिए निर्देशित किया गया है।

पशु कटान की सूचना पर पहुंची पुलिस का विरोध

सरसावा: अवैध पशु कटान की सूचना पर एक घर में छापा मारने पहुंची पुलिस को महिलाओं के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। विरोध के बावजूद पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में ले लिया तथा पशुओं के कटे हुए अवशेषों को सुरक्षित स्थान पर जमीन में दबवा दिया।

सरसावा पुलिस को फोन पर नगर के मोहल्ला कस्साबान में अवैध रूप से पशु कटान की सूचना मिली थी। सूचना पर पुलिस ने मकान पर छापा मारा तो वहां एक कटड़ा कटी अवस्था में मिला जहां फर्श पर चारों ओर खून बिखरा हुआ था तथा पशुओं के अवशेष पड़े हुए थे। पुलिस को देख कर मकान स्वामी के परिवार वालों विशेषकर महिलाओं ने पुलिस पर दबाव बनाने का प्रयास करते हुए हंगामा करना शुरू कर दिया तथा विरोध करने लगी। इसी बीच सूचना पाकर सरसावा थाना अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह पुलिसकर्मियों से भरी दो गाड़ियां लेकर मौके पर पहुंचे तथा हंगामा कर रहे 2 दो लोगों को हिरासत में ले लिया। जबकि अन्य लोग छतों के रास्ते कूदकर भाग निकले। इस संबंध में पुलिस क्षेत्राधिकारी नकुड़ अरविद सिंह पुंडीर ने बताया कि आरोपियों के पास केवल मांस बेचने का लाइसेंस था जबकि पशु कटान अवैध रूप से हो रहा था सरसावा पुलिस मामले में अभियोग पंजीकृत कर रही है।

Edited By: Jagran