सहारनपुर : सदर बाजार थाना क्षेत्र की पेपर मिल रोड स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में रविवार रात बराबर के खाली प्लाट से सेंधमारी कर चोर घुस गए। स्ट्रांग रूम तक पहुंचने के बावजूद चोर उसके ताले नहीं तोड़ पाए, जिससे एक बड़ी वारदात बच गई।

पेपर मिल रोड पर हिम्मतनगर में बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा है। इसके बराबर में चारदीवारी व गेट लगे खाली प्लाट की ओर से चोर रात में बैंक की दीवार में सेंधमारी कर बैंक के भीतर घुसे और सभी काउंटरों को खंगाला लेकिन उन्हें कुछ हासिल नहीं हुआ। सोमवार सुबह क्षेत्रवासियों ने बैंक की दीवार में सेंधमारी देखी तो पुलिस व बैंक कर्मचारियों को सूचना दी। सबसे पहले बैंक के शाखा प्रबंधक राजपाल परदेशी और फिर एसपी सिटी अनीस अहमद अंसारी, सीओ द्वितीय चरण सिंह व इंस्पेक्टर अजय कुमार चौहान मौके पर पहुंचे। डाग स्क्वायड को बुलाया गया। पुलिस ने गहनता से जांच पड़ताल की। शाखा प्रबंधक ने बताया कि चोरों ने स्ट्रांग रूम को भी खोलने का प्रयास किया, मगर स्ट्रांग रूम के ताले न टूट पाने के कारण चोर नकदी नहीं ले जा सके। इंस्पेक्टर अजय कुमार चौहान ने बताया कि फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट टीम ने भी यहां से निशान उठाए हैं और चोरों की सुरागरसी के प्रयास किए जा रहे हैं। बैंक मैनेजर ने दी तहरीर में किसी भी तरह के नुकसान से इन्कार किया है।

बंद मिले सीसीटीवी कैमरे

सहारनपुर : बैंक ऑफ बड़ौदा की पेपर मिल रोड स्थित शाखा में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, मगर जांच के दौरान इनका बंद होना बताया जा रहा है। शाखा प्रबंधक ने बताया कि जांच के दौरान यह बात सामने आई हैं, जिससे चोरों की फुटेज नहीं मिल सकी। पुलिस का भी यही कहना है कि जांच में कैमरे बंद मिले हैं। सोचनीय बात यह है कि चालू कैमरे अचानक बंद कैसे हो गए? माना जा रहा है कि चोरों की गतिविधि सीसीटीवी कैमरों में कैद हो चुकी है और उनकी शिनाख्त भी कर ली गई है, मगर उनकी पहचान सार्वजनिक न करने के उद्देश्य से ही इस तरह की बातें सामने रखी जा रही हैं। साथ ही एक सवाल यह भी उठ रहा है कि क्या रात्रि में पुलिस गश्त नहीं कर रही थी? और अगर कैमरे पहले से ही बंद थे तो यह बैंक की भी लापरवाही उजागर करता है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर